किसान ने सुसाइट नोट में लिखा- रुपये लौटाने के बाद नहीं दे रहा जमीन के कागज

 


 

नागौर

जिले के डीडवाना शहर में स्थित एसडीम कोर्ट के बाहर एक बुजुर्ग किसान ने मंगलवार को जहर खा लिया। इस घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। एसडीएम कार्तिकेय मीणा सहित वहां मौजूद लोगों ने किसान को बांगड़ अस्पताल पहुंचाया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे गंभीर हालत में जयपुर रेफर कर दिया गया।आत्महत्या के प्रयास से पहले किसान ने एक सुसाइड नोट भी लिखा। नोट में उसने बताया कि छह महीने पहले उसने जमीन के कागज गिरवीं रखकर कर्ज लिया था। पूरी रकम लौटने के बाद भी सूदखोर जमीन के कागज वापस नहीं कर रहा है।  कागज और स्टांप नहीं देने के बाद उसने आरोपी की शिकायत उच्च अधिकारियों से की, लेकिन सुनवाई नहीं होने से परेशान होकर वह जान दे रहा है।  पुलिस से मिली जानकारी अनुसार कांटा बासनी निवासी तुलसाराम पुत्र राम राम ने मंगलवार सुबह डीडवाना के एसडीएम कोर्ट के बाहर जहर खाकर जान देने का प्रयास किया। सूचना पर पहुंची पुलिस उसे डीडवाना के बांगड़ अस्पताल पहुंचाया। जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने उसे जयपुर रेफर कर दिया। 

तुलसाराम की जेब से एक सुसाइट नोट मिला है। जिसमें उसने बाबूराम पुत्र कृष्णा राम निवासी कायथा बासनी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। नोट में किसान तुलसाराम ने लिखा कि उसने बाबूराम से छह महीने पहले तीन लाख रुपए उधार लिए थे। उसने पूरी रकम बाबूराम को लौटा दी, लेकिन जमीन का स्टांप वह नहीं लौटा रहा है। वह उसकी जमीन हड़पने का दबाव बना रहा है। इससे तंग आकर वह आत्महत्या कर रहा है। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना