2 युवकों की बनास नदी में डूबने से मौत

 


टोंक.

 सवाईमाधोपुर के रणथंभौर में गणेशजी के दर्शन करने चार दोस्तों के साथ जा रहे 2 युवकों की बनास नदी में डूबने से मौत हो गई। वे रास्ते में पक्का बंधा के पास बनास नदी में नहाने लग गए। इस दौरान गहरे पानी में चले गए।  साथियों ने पुलिस को सूचना दी। मामला टोंक सदर थाना इलाके में बनास पुलिया के पास हुआ।

सदर थानाधिकारी राजेंद्र खंडेलवाल ने बताया कि बुधवार शाम को बनास नदी में 2 युवकों के डूबने की सूचना मिलने के बाद एसडीआरएफ और सिविल डिफेन्स के साथ सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और उनकी तलाश शुरू की। करीब डेढ़ घंटे की खोजबीन कर दोनों के शव तलाशकर बाहर निकाल कर सआदत अस्पताल लाए। जहां औपचरिक रूप से दोनों को मृत घोषित कर दिया। शव मोर्चरी में रखवा दिए। पुलिस ने गुरुवार को दोनों शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान मौके पर तहसीलदार रामधन गुर्जर, डीएसपी सलेह मोहम्मद ने भी पहुंचकर जानकारी ली।

थानाधिकारी खंडेलवाल ने बताया कि मृतकों की जयपुर जिले के कोटखावदा थाना क्षेत्र के बालमुकुंदपुरा उर्फ बांसडा निवासी दिलकुश (19) पुत्र सावलराम मीणा और बरोनी थाना क्षेत्र के भंवर सागर निवासी कैलाश (26) पुत्र नाथू लाल मीणा के रूप मे हुई। वे दोनों घर में इकलौते पुत्र थे और आपस में रिश्तेदार थे। पुलिस ने गुरुवार को दोनों शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। जैसे ही शव घर पहुंचे तो कोहराम मच गया। बाद में अपने-अपने गांव में अंतिम संस्कार कर दिया। दिलकुश 12वीं और कैलाश कॉलेज स्टूडेंट था।

 ग्राम विकास अधिकारी सियाराम मीणा ने बताया कि दोनों मृतक रिश्तेदार हैं।  कैलाश चार बहनों में अकेला था। दो बहनों की शादी हो चुकी है। इसी तरह मृतक दिलकुश दो भाई बहन थे। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार