जहाज़पुर में पोंने 2 इंच बरसात,फसले बर्बाद होने के कगार पर

 


जहाज़पुर दिनेश पत्रिया। शनिवार सुबह समाप्त हुए 24 घण्टे में जहाज़पुर में 45 mm बरसात मापी गई वही पहले हुई बरसात ओर जाते जाते मानसूनी बरसात ने किसानों की मेहनत पर  पानी फेरने का काम किया है किसानों की फसलें बर्बाद होने के कगार पर खड़ी इलाके के कई खेतो में जलभराव के चलते पानी भरा हुवा है अब किसानों को राम से उम्मीद टूट गई तो सरकार की ओर आशा भरी नजरों से ताक रहे है कि काश सरकार उनको मुवावजा दे दे 
        शुक्रवार शाम को एक घण्टे से अधिक तेज़ बरसात हुई शनिवार को भी बादल छाए हुए है और फुहारों से मौसम हालांकी खुशनुमा हो गया लोगो को उमस से राहत मिली है सिचाई विभाग के सूत्रों के मुताबिक पोंने दो इंच बरसात नापी गई वही नागदी बांध भी अपनी भराव क्षमता से करीब 3 फ़ीट खाली है मगर विदाई की बेला पर दस्तक दे रहा मानसून किसानों के लिए खतरनाक दर्द दे रहा है तीन दिनों से हो रही बरसात से खेतों ने पानी भर गया है किसान बजरंग लाल मीणा ने बताया कि खेतो में पानी भरा होने से फसले गल गई है बाकरा के सत्यनारायण शर्मा ने बताया कि बरसात के बाद खेतो में जलभराव के बाद मक्का, मूंगफली व अन्य फसले बर्बाद हो गई है सरपंच मोहन लाल गुर्जर ने बताया कि मक्का की फसल जो पक चुकी है उसको काटने के समय बरसात आ जाने से दाने काले पड़ जाएंगे किसान खानाराम मीणा रत्न लाल कीर ने बताया कि हमारी उम्मीदों पर पानी फिर गया है तेज़ हवावो के साथ आई बरसात से लहलहाती फसले आड़ी पड़ गई है पैदावार न के बराबर होगी हालाकि कई किसानों यह भी चिंता जताई कि समय पर सरसों की बुवाई भी नही हो पाएगी जानवर पहले ही लम्पी रोग से ग्रसित है उनके सामने चारे की विकट समस्या होगी उड़द ओर मूंग की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई है रोपा के रामप्रसाद टाक, पूर्व उप पधान अंजनी कुमार शर्मा व शैतान मीणा ने सरकार से कीसानो को मुआवजा दिलाये जाने की मांग की है बरसात से किसानों के हाल बेहाल है किसान खेमराज मीणा का कहना है कि इस बरसात से किसानों को हुए नुकसान की भरपाई मुश्किल है
कांग्रेस के ब्लाक अद्यक्स रामकुमार मीणा सरपंच दीपक गुर्जर,मुकेश वैष्णव,बाबूलाल मीणा रामसिंह शक्तावत ने भी किसानों की फसलों की गिरदावरी करा कर मुवावजे की मांग की है वही विधायक गोपीचंद मीणा ने भी इस मामले में विधानसभा में सरकार का ध्यान आकर्षित किया है अब किसानों को राज से उम्मीद रह गई है

लिपाई पुताई पर भी असर
दो दिन बाद नवरात्र शुरू हो रहे है लोग इससे पहले ही घरों,मकानों ओर दुकानों की साफ सफाई में जुट जाते है मगर बिगड़ते मौसम और बरसात से न तो सफाई हो रही है न ही लिपाई पुताई शुरू हो रही है

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार