लव स्टोरी व प्रॉपर्टी को लेकर मासी को उतार दिया मौत के घाट, 3 नाबालिग निरुद्ध, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

 


अजमेर.  जिले के नसीराबाद के निकट गांव आशापुरा में मंगलवार को बावड़ी में मिली महिला की लाश के मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने मृतक महिला की नाबालिग भांजी व अन्य दो नाबालिग लड़कों को निरुद्ध कर मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। मृतका की भांजी ने ही अपनी लव स्टोरी व प्रॉपर्टी को लेकर अपनी मासी को अपने लवर और उसके दोस्तों के साथ मिलकर मौत के घाट उतार दिया। पुलिस मामले में पूछताछ में जुटी है। गुरुवार को सभी को कोर्ट में पेश कर अग्रिम अनुसंधान किया जाएगा।

नसीराबाद सदर थाना प्रभारी हेमराज सिंह ने बताया कि बावड़ी में मिली महिला की बॉडी के मामले में उसके मौसी के बेटे वेलीगटन मेसी द्वारा अपनी मौसेरी बहन बेला जॉनसन की हत्या के मामले में रिपोर्ट दी गई कि उसकी दत्तक पुत्री व उसके दोस्तों द्वारा उसकी बहन की हत्या की है। पीड़ित भाई की मिली शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर टीम का गठन किया गया और कार्रवाई के निर्देश दिए गए।

थाना प्रभारी हेमराज सिंह ने बताया कि मामले में टीम ने गंभीरता से तफ्तीश करते हुए घटनास्थल के आसपास से साक्ष्य एकत्रित किए और संदिग्ध आरोपियों की तलाश कर 24 घंटे में आरोपियों को पकड़ लिया। थाना प्रभारी ने बताया कि मामले में मृतक महिला की भांजी व अन्य 2 नाबालिग लड़कों को निरुद्ध किया गया है। वही भांजी के लवर नसीराबाद काली माई रोड निवासी गौतम बैरवा ( 22 ) पुत्र प्रवीण बैरवा को गिरफ्तार किया गया। इस संबंध में सभी से पूछताछ की जा रही है। गुरुवार को कोर्ट में पेश कर अग्रिम अनुसंधान किया जाएगा।

थाना प्रभारी हेमराज ने बताया कि गिरफ्तार किए गए मुख्य आरोपी और निरुद्ध किए गए बालकों में बालिका से पूछताछ की गई तो मृतका की भांजी ने बताया कि वह मृतक महिला की बड़ी बहन जरीना की दत्तक पुत्री है। उसकी मां जरीना की मौत के बाद से वह अपनी मौसी के पास रह रही है। इस दौरान 2 वर्ष पहले मुख्य आरोपी गौतम से उसकी दोस्ती हो गई और दोनों एक दूसरे से शादी करना चाहते थे।

लेकिन मृतक महिला शादी से सहमत नहीं थी। यह बात मुख्य आरोपी और बालिका दोनों को ही नागवार लग रही थी, इसके साथ ही मृतक महिला की बड़ी बहन की पेंशन और प्रॉपर्टी पर भी भांजी की नजर थी। जिस पर नाबालिग भांजी ने अपने लवर गौतम व लवर के दो अन्य नाबालिग दोस्तों के साथ मिलकर महिला की हत्या कर दी और महिला की बॉडी को घर के पीछे बावड़ी में फेंक दिया।

थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक महिला की भांजी व उसके लवर द्वारा षड्यंत्र रचकर बेला को रास्ते से हटाने के लिए लगभग 2 महीने पूर्व प्लानिंग बना ली थी और योजना को अंजाम देने के क्रम में पहले भी कई बार मारने की कोशिश की गई, लेकिन फेल हो गए। 28 अगस्त 2022 को सभी ने प्लानिंग कर महिला को मौत के घाट उतार दिया और वहां से फरार होकर बलवंता में फ्लैट में जाकर छुप गए।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

शीतलाष्टमी की पूजा आज देर रात से, रंगोत्सव (festival of colors) कल लेकिन फैली है यह अफवाह ...!

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज