करंट का कहर- ससुर को लगा, बचाने गई बहू की भी गई जान, जालिमपुरा डूबा शोक में

 



 

 भीलवाड़ा बीएचएन। गुरुवार की सुबह हुई एक घटना से जालिमपुरा गांव ही नही, वरन आस-पास के गांव के लोग भी शोक में डूब गया। दरअसल, इस बांव के एक किसान को खेत पर मोटर चालू करते समय करंट लगा, उसे बचाने गई बहू भी करंट की चपेट में आ गई। काल बनकर आये करंट ने ससुर और बहू दोनों की जान ले ली। शवों को रायला अस्पताल भिजवा दिया गया, जहां उनका पोस्टमार्टम किया जा रहा है। 
रायला थाना प्रभारी सुनील चौधरी ने बीएचएन को बताया कि गांवों में सिंचाई के लिए अलसुबह बिजली सप्लाई दी जाती है। इसी के चलते गुरुवार सुबह जालिमपुरा निवासी मांगीलाल 45 पुत्र भूरालाल गुर्जर व उसकी पुत्रवधु गोपाली 21 पत्नी उदयलाल गुर्जर  खेत पर फसल की पिलाई करने गये। 
ससुर मांगीलाल कुएं पर लगी मोटर चालू करने लगा, तभी  उसे स्टार्टर से करंट लगा, जिससे वह वहीं चिपक गया। यह देखकर उसकी पुत्रवधु गोपाली ने उसे बचाने का प्रयास किया तो वह भी चपेट में आ गई। दोनों की मौत वहीं हो गई। सूचना पर परिजन व ग्रामीण मौके पर पहुंचे। पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने भी घटनास्थल का जायजा लिया। शवों को बाद में पोस्टमार्टम के लिए रायला अस्पताल भिजवा दिया, जहां पोस्टमार्टम किया जा रहा है। उधर, इस घटना से जालिमपुरा में शोक छा गया। पुलिस हादसेे के कारणों की जांच कर रही है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

शीतलाष्टमी की पूजा आज देर रात से, रंगोत्सव (festival of colors) कल लेकिन फैली है यह अफवाह ...!

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज