पेट में फटी थी आंतें, भर गई थी मवाद, सरकारी अस्पताल के डॉक्टर्स ने किया सफल ऑपरेशन, बालक की बचाई जिंदगी

 भीलवाड़ा बीएचएन। भीलवाड़ा के महात्मा गांधी चिकित्सालय के डॉक्टर्स ने एक बेहद गंभीर बालक का सफल ऑपरेशन कर उसकी जिंदगी बचाई है। बालक के ऑपरेशन का बीड़ा जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों ने उठाया। उनके समपर्णभाव का ही नतीजा है कि यह बालक अब पूरी तरह से स्वस्थ्य है। इस बालक के पेट की आंतें फटी हुई थी और मवाद भरी हुई थी। 
ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर विनोद यादव ने बीएचएन को बताया कि जेतपुरा हाल भीलवाड़ा निवासी और आठवीं कक्षा के 13 वर्षीय छात्र नितेश माली को पिछले दस दिन से बुखार था। परिजन  उसे 26 अगस्त को ही जिला अस्पताल लाये थे, इलाज के लिए। डॉक्टर यादव बताते हैं कि नितेश जब अस्पताल आया तो उसके पेट में सूजन थी। पेट पूरा फुला हुआ था। उसकी कंडीशन बहूत ज्यादा सीरियस थी। उसकी पल्स रेट 120 के आस-पास थी। ब्लड प्रेशर भी बहुत कम था। हमने इमरजेंसी में बालक की सारी जांचें की। इसके साथ ही ऑपरेशन प्लान किया। 27 अगस्त को सुबह नितेश का ऑपरेशन किया गया। इसके पेट के अंदर आंतें फटी और चिपकी हुई थी। पूरे पेट में मवाद भरी हुई थी। बच्चे को दो दिन आईसीयू में रखा। बालक को नली से भोजन दिया गया। अब यह बच्चा पूरी तरह स्वस्थ है।   

2 घंटे चला ऑपरेशन
डॉक्टर विनोद यादव का कहना है कि ने बताया कि नितेश सफल ऑपरेशन किया गया। इस ऑपरेशन में डॉक्टर्स की टीम को डेढ़ से दो घंटे लगे। अब बच्चा पूरी तरह स्वस्थ है। यह सफल ऑपरेशन करने वाली हमारी पूरी टीम ने  बहुत मेहनत की। इस टीम में एनेस्थिसिया में डॉक्टर  विनित, डॉक्टर संदीप और डॉक्टर निकिता थे। सर्जन में डॉक्टर अमित, डॉक्टर विनोद, डॉक्टर आसू व डॉक्टर आनंद की टीम थी। स्टॉफ में पंकज और ओटी इंचार्ज वीरेंद्र, चांदमल शामिल थे। 

 

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार