भीलवाड़ा के ढाई सौ तीर्थयात्री फंसे गंगोत्री में, सरकार से बचाव की मांग

 


भीलवाड़ा /गंगोत्री(प्रहलाद तेली)। भीलवाड़ा से चार धाम की यात्रा पर गए ढाई सौ महिला और पुरुष गंगोत्री में भूस्खलन के कारण 2 दिन से फंसे हुए हैं। उनके सामने खाने पीने का संकट आ गया है ।गंगोत्री से उत्तरकाशी के लिए चार बसों और छोटे वाहनों से रवाना हुए लोग गंगरानी के निकट भूस्खलन होने से फंस गए हैं मौके से दूरभाष पर हलचल को अशोक अग्रवाल ने बताया कि भीलवाड़ा से ढाई सौ लोग गंगोत्री के दर्शन कर कल शाम लौट रहे थे तभी 4:00 बजे के आसपास भारी भूस्खलन होने के कारण सड़क मार्ग अवरुद्ध हो गया और वह सभी लोग रास्ते में फंस गए उन्होंने बताया कि जहां में फंसे हैं वहा छोटी मोटी होटल हैं लेकिन उनके पास का राशन भी पूरा नहीं था और भीलवाड़ा के ढाई सौ लोगों के साथ ही गुजरात और अन्य प्रदेशों के करीब 4000 लोगों के वहां फसे होने से खाने पीन  की राशन सामग्री भी होटलों पर खत्म हो गई है।  यात्रियों में शामिल भीलवाड़ा की एक महिला ने कहा कि खाने पीने के संकट के साथ ही उन्हें सर्दी का भी सामना करना पड़ रहा है उन्होंने सरकार से तत्काल बचाव के उपाय करने की मांग की है।

भीलवाड़ा के यह लोग फंसे 

कैलाश जागेटिया दिनेश अग्रवाल अशोक अग्रवाल मीनाक्षी देवांशी के साथी ढाई सौ लोग शामिल है

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग