पति ने ही किया था प्रेमदेवी का कत्ल, चढ़ा पुलिस के हत्थे, मुक्का मारने से नाराज होकर घोंटा था पत्नी का गला

भीलवाड़ा (हलचल)। जिले के हमीरगढ़ कस्बे में 15 दिन पूर्व बुजुर्ग प्रेमदेवी सोमानी की हत्या का आखिरकार गुरूवार को हमीरगढ़ पुलिस ने खुलासा कर दिया। इस सनसनीखेज हत्याकांड को किसी और ने नहीं बल्कि मृतका के ही किराणा व्यवसायी पति ने अंजाम दिया था। पुलिस ने वारदात का खुलासा करते हुए आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है। 
बता दें कि पुलिस ने इस हत्या का खुलासा तब किया जब कस्बे के व्यापार मण्डल ने घोषणा करते हुए आज से ही अनिश्चितकालीन बाजार बन्द रखकर धरना शुरू कर दिया। 
पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधू ने बताया कि 16 अगस्त को हमीरगढ़ थाने पर दिलदार पठान ने सूचना दी कि उसके सेठ व सेठानी के साथ किसी ने मारपीट की। जिससे सेठ घायल हो गया जबकि सेठानी गंभीर रूप से घायल हो गई जिसे अस्पताल भिजवाया गया। इस सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। उधर अस्पताल ले जाई गई प्रेमदेवी को डाक्टर्स ने मृत घोषित कर दिया। इस घटना को लेकर पुलिस ने श्वेता पत्नी हरीश मंडोवरा निवासी हमीरगढ़ की रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज किया। इस वारदात का खुलासा करने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ज्येष्ठा मैत्रयी के नेतृत्व व डीएसपी सदर रामचन्द्र के निकटतम सुपरविजन में टीम गठित की गई। थाना प्रभारी पुष्पा कासौटिया को भी टीम में शामिल किया गया। इस टीम ने घटना स्थल के आसपास के पड़ौसियों से पूछताछ करने के साथ ही रास्ते में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। इसके अलावा संदिग्धों से पूछताछ और मृतका के पुत्र से पैसे मांगने वालों से और मृतका के पति नाथूलाल से कड़ाई से पूछताछ की। इस पूछताछ में नाथूलाल सोमानी और गवाहों द्वारा दी गई जानकारी विरोधाभास होने और घटना शाम को ही होने पर नाथूलाल द्वारा रात भर उसके बारे में किसी को नहीं बताया गया, न ही घटना के दौरान कोई शोर शराबा या हल्ला किया गया। नाथूलाल द्वारा बार बार बयान बदलने से शक की सुई उस पर केन्द्रित हुई। 
कड़ाई से पूछताछ में टूटा नाथूलाल, बोला मैंने घोंटा था गला :
थाना प्रभारी कासौटिया ने बताया कि 70 वर्षीय नाथूलाल से प्रेमदेवी की हत्या को लेकर जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो वह टूट गया और पुलिस के सामने कबूल किया कि उसने ही पत्नी प्रेमदेवी की गला घोंटकर हत्या की थी। इस खुलासे के बाद नाथूलाल को गिरफ्तार कर लिया गया। 
यह बताई कत्ल की वजह :
डीएसपी सदर रामचन्द्र चौधरी ने कहा कि नाथूलाल से पूछताछ में उसने हत्या की वजह यह बताई कि उसकी पत्नी प्रेमदेवी हर दिन भजन कीर्तन करने जाती थी। इस दौरान वह मकान का बाहर से गेट बन्द कर जाती। इसके बाद देर रात तक वापस घर आती थी। गेट बन्द कर जाने से नाथूलाल बाहर कहीं नहीं जा सकता था। साथ ही प्रेमदेवी उसे पसंद का खाना बनाकर टाइम पर नहीं देती थी। इतना नहीं मंदबुद्धि पौते को लेकर उसका पत्नी प्रेमदेवी से आये दिन झगड़ा होता था। आये दिन होने वाले इसी झगड़े से नाथूलाल तंग आ चुका था। वारदात वाले दिन भी सब्जी की बात को लेकर पति पत्नी में झगड़ा हुआ। इस दौरान प्रेमदेवी ने उसे मुक्का मार दिया जिससे उसे खून आ गये। इस बात को लेकर नाथूलाल तैश में आ गया और उसने बाथरूम में गई पत्नी प्रेमदेवी को पीछे से जाकर धक्का मारा जिससे वह नीचे गिर गई। बाद में पे्रम देवी की पहनी हुई साड़ी से ही उसका गला घोंट दिया था। इसके बाद बचाव के लिए रूम के अन्दर जाकर उसने खुद ने ही दरवाजा अन्दर से बन्द कर लिया ताकि अज्ञात व्यक्ति द्वारा हमला करने की झूंठी कहानी बना सके। 
यह थे टीम में :
थाना प्रभारी पुष्पा कासौटिया, एएसआई अर्जुन लाल, नरेश कुमार, इकबाल खां, दीवान बाबूलाल, कांस्टेबल शैतान सिंह, नैतराम, गोपाल लाल, बलवीर सिंह, इन्द्राराम और अमित कुमार शामिल थे।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत

बेटे का आरोप-ब्लैकमेलिंग से परेशान था मोहम्मद रईस, विषाक्त सेवन कर शिकायत देने गया था एसपी ऑफिस