लम्पी, किसान कर्जमाफी, बढ़ी बिजली दरें, महिला अपराधों को लेकर जयपुर में प्रदर्शन

 

जयपुर

 लम्पी, किसान कर्जमाफी, बढ़ी बिजली दरें, महिला अपराधों को लेकर राजस्थान बीजेपी की ओर से आज जयपुर में प्रदर्शन किया गया। प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया के साथ भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने करीब 12 बजे के लगभग बीजेपी मुख्यालय से कूच किया। कार्यकर्ता अपने मुख्यालय से विधानसभा की ओर निकले। रास्ते में पुलिस ने इन्हें आगे बढने से रोका तो कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच धककामूुक्की हो गई। पार्टी नेता बैरीकैडिंग हटाने के लिए उस पर चढ़ भी गए। बाइस गोदाम के आगे सहकार मार्ग पर पुलिस इन्हें रोकने का प्रयास किया। प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ने भी बैरीकैडिग पर चढने की कोशिश की तो पुलिस ने इन्हें लाठीचार्ज की चेतावनी दे दी। कार्यकर्ता गहलोत सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे है। इस बीच पूनिया सहित अन्य नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

BJP on Lampi, assembly march, demonstration, scuffle. Poonia custody

 प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने आरोप लगाया कि राज्य की कांग्रेस सरकार सदन से भी और धरातल से भी भागना चाह रही है, लेकिन राजस्थान की जनता और प्रतिपक्ष उनको भागने नहीं देगाl इस समय जो यक्ष प्रश्न है, जो ज्वलंत मुद्दा है वह लंपी का है, राजस्थान के गोवंश को बड़ा भारी नुकसान हुआ है, सरकार का आंकड़ा 10 लाख गायों के संक्रमित होने का और 57 हजार के आसपास काल कलवित होने का है लेकिन जो हकीकत है वह इसके इतर है, 30 लाख से भी अधिक गाय संक्रमित हुई और 10 लाख से अधिक गोवंश को नुकसान हुआ है, यह सीधे-सीधे सरकार की संवेदनहीनता का प्रमाण हैl

उन्होंने कहा कि राजस्थान को छोड़कर इसके जो पड़ोसी राज्य हैं, चाहे हरियाणा हो, गुजरात हो, उत्तर प्रदेश हो उन्होंने बहुत सही तरीके से सही समय पर इस आपदा से निपटने के लिए युद्धस्तर पर प्रयास किए और वह सफल भी हुए। पूनिया ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में प्रतिदिन दो से तीन लाख का टीकाकरण किया जा रहा है, इसी तरीके से उन्होंने बहुत पहले से ही शेल्टर्स बनाए, आइसोलेशन बनाए, टीकाकरण किया जा रहा है, पशुधन सहायकों की नियुक्तियां की, तीनों ही पड़ोसी प्रदेशों में बहुत अच्छे तरीके से प्रबंधन कर गोवंश को बचाया जा रहा है, अब काफी हालात वहां काबू में हैं

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार