चुनावी रंजिश के चलते उत्पात, महिला को बाल पकड़ कर घसीटा, दो पर तलवार से वार, एक का दबाया गला, मोबाइल, सीसी टीवी कैमरे तोड़े

 


 भीलवाड़ा बीएचएन। जीएसएस चुनाव को लेकर रंजिश के चलते करीब चौदह लोगों ने जमकर उत्पात मचाते हुये एक महिला को बाल पकड़ कर न केवल घसीटा, बल्कि उसे जातिगत अपमानित कर मारपीट तक कर दी।  दो लोगों पर तलवार से वार कर उनके मोबाइल के साथ ही घर में लगे सीसी टीवी कैमरे व  मीटर तोड़ दिया और एक व्यक्ति को गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की गई। घटना बनेड़ा थाने के बबराना में गुरुवार देर शाम को हुई।  पीडि़त महिला ने इन आरोपों को लेकर बनेड़ा थाने में शुक्रवार को एससीएसटी एक्ट के तहत केस दर्ज करवाया है।
बनेड़ा थाने के दीवान मांगीलाल जाट ने बीएचएन को बताया कि बबराना निवासी प्रेम पत्नी स्व. जीतमल खटीक ने यह मामला दर्ज करवाया है। प्रेम देवी ने एफआईआर में विक्रमसिंह पुत्र महेंद्र सिंह, हरिदयाल सिंह पुत्र दौलत सिंह, मनीष पुत्र जगदीश प्रजापत,शिवराम पुत्र मदन खटीक, सोनू पुत्र बद्रीलाल खटीक, गोपाल पुत्र बद्रीलाल खटीक, लोकेश पुत्र मदन खटीक निवासी बबराणा को नामजद करते हुये सात-आठ लोगों को आरोपित बनाया है।
 प्रेम देवी ने एफआईआर में बताया कि बबराणा में कल 15 सितंबर को सहकारी समिति के चुनाव की प्रक्रिया होने से पुत्र जगदीश खटीक व उसका परिवार बाहर था। घर पर इसी चुनाव की वजह से लक्ष्मण गाडरी, हरफूल जाट, देबीलाल खटीक व अशोक रेबारी परिवादिया के घर पर ही थे। उक्त आरोपित हमसलाह होकर तैयारी के साथ परिवादिया के परिवार व मिलने वालों को मारने के आशय से सूर्यास्त के बाद रात साढ़े आठ बजे विक्रम सिंह, हरदयाल सिंह, मनीष, शिवराम, गोपाल, सोनू, लोकेश  हथियारों से लैस हो, जबरन  फाटक का ताला तोड़कर परिवादिया के मकान में प्रवेश किया।
आरोपितों ने चिल्लाकर कहा कि आज सबको जान से खत्म कर दो। यह कहते ही विक्रम सिंह ने प्रेम को नीचे गिरा दिया और घसीटते हुये बाहर रोड़ तक ले गया बाल नौंच लिये। सभी के सामने परिवादिया को जातिगत गालियां दी और कहा कि तेरी इतनी औका कि तेरा परिवार चुुनाव में हमारे खिलाफ जायेंगे। आरोपितों ने पीडि़त पक्ष से रंजिश पाल रखी है। आरोपितों ने अंदर खड़े हरफूल व लक्ष्मण पर हरदयाल ने तलवार से सिर पर वार किया, जिस पर दोनों ने अपने सिर को बचाया तो दोनों के हाथ में चोट आई। मनीष ने देबीलाल का गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की। देबीलाल व अशोक का मोबाइल व घर का मीटर व सीसी टीवी तोड़ दिया। परिवादिया ने एफआईआर में बताया कि उसका पुत्र बार-बार चुनाव जीतता है, इसलिये ये आरोपित रंजिश रखते हैं। पीडि़ता का कहना है कि विक्रम सिंह, हरिदयाल व मनीष ने यह सब आशयपूर्वक किया तथा  शिवराम, सोनू,गोपाल व लोकश को परिवादिया के पुत्र जगदीश के विरुद्ध भड़काकर, मोहरा बनाकर उक्त अपराध करने के लिए शामिल किया। 

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत

बेटे का आरोप-ब्लैकमेलिंग से परेशान था मोहम्मद रईस, विषाक्त सेवन कर शिकायत देने गया था एसपी ऑफिस