व्यवसायिक व आवासीय परिसरों का नक्शे के अनुरूप करें निर्माण, नहीं तो भुगतना होगा खामियाजा- सभापति पाठक

 


भीलवाड़ा (राजकुमार माली)। भीलवाड़ा में व्यवसायिक और आवासीय परिसरों में नियम विरूद्ध निर्माण एक में नहीं बल्कि अधिकांश कॉम्पलेक्सों व मकानों के यही हाल है जहां न सेटबेक छोड़ा गया है न पार्किंग। अब नगर परिषद सभापति ने लोगों से अपील की है कि वे दुकानें व मकान खरीदने से पहले व्यवसायिक परिसरों के नक्शे को देख लें कि वह स्वीकृत है या नहीं। 
नगर परिषद सभापति राकेश पाठक ने व्यवसायिक और आवासीय परिसरों में अवैध निर्माण के संबंध में हलचल से बातचीत करते हुए कहा कि शहर के व्यवसायिक और आवासीय परिसरों में गड़बडिय़ां है। इन गड़बडिय़ों से बचने के लिए बेसमेंट और परिसर में दुकान खरीदने से पहले खरीददार इस बात के लिए पुख्ता हो जाए कि व्यवसायिक परिसर का निर्माण नक्शे के अनुरूप किया हुआ है या नहीं। जो परिसर खरीद रहे है वह पार्किंग स्थल या अवैध निर्माण में तो नहीं है या उसका नक्शा पास है या नहीं। ऐसा करने से खरीददार को बेवजह परेशानी नहीं उठानी पड़ेगी। 
पाठक ने कहा कि अवैध निर्माण के खिलाफ परिषद कार्रवाई कर रही है और यह जारी रहेगी। आज तीन कॉम्पलेक्सों में सीज की कार्रवाई की गई है। 
 पाठक ने कानूनी पेचिंदगी से बचने के लिए आवासीय और व्यवसायिक परिसर मालिकों को नियमानुसार निर्माण करने की भी सलाह दी। ताकि उन्हें नोटिस, सीज और तोडफ़ोड़ जैसी कार्रवाई का सामना न करना पड़े। 
भीलवाड़ा में पहले भी बड़ी तोडफ़ोड़ की कार्रवाईयां हुई है लेकिन तब जिला प्रशासन ने सख्ती दिखाई थी। इसी के चलते रेलवे स्टेशन चौराहे, गांधी नगर, मियाचंद की बावड़ी आदि क्षेत्रों में बड़े स्तर पर तोड़ फोड हुई थी। हालांकि आगे चलकर वहां फिर निर्माण हो गये। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार