मकान ध्वस्त और जमीन पर कब्जा करने की धमकी, न्याय के लिए दर-दर भटक रही दो बेवा, आसींद पुलिस नहीं कर रही है कार्रवाई

 


 भीलवाड़ा बीएचएन। पतियों की मौत के बाद जैसे-तैसे गुजर-बसर कर रही दो बेवा महिलाओं को कुछ लोग मकान ध्वस्त कर जमीन पर कब्जा करने की लगातार धमकियां दे रहे हैं। ये महिलायें न्याय के लिए भटक रही है। बुधवार को लंबी दूरी तय कर जिला मुख्यालय पहुंची इन महिलाओं ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत देकर कार्रवाई की गुहार लगाई है। 

बराणा चौराहा, आसींद निवासी सजनी देवी पत्नी स्व0 श्रीराम गुर्जर व भाली देवी पत्नी स्व0   तेजमल गुर्जर ने पुलिस अधीक्षक को दी शिकायत में बताया कि वे, बेवा महिलायें हैं। उनके पति जो कि आंजणा देव में भगवान की सेवा पुजा अर्चना कर डोहली की भूमि पर फसल काश्त कर अपना व अपने परिवार का गुजर बसर करते थे, लेकिन सजनी देवी के पति श्रीराम गुर्जर को पुजा अर्चना के ओसरे व डोहली भूमि को लेकर ही उनकी हत्या कर दी गयी व डोहली की भूमि पर भी हमारा कब्जा हटा दिया गया। सेवा पुजा अर्चना भी बंद कर दी।  इन महिलाओं का कहना है कि सरहद कांवलास पटवार हल्का कांवलास  की बिलानाम आराजी नम्बर 2424, 2432,2404 व अन्य भूमि पर अपने पूर्वजो के समय से निर्बाध रूप से आमजन व पक्षकारो की जानकारी में कब्जा एंव उपयोग उपभोग चला आ रहा है । 
महिलाओं ने नन्दा ,खुमा लाल ,भागू, बालू, हरजी  व  ट्रस्ट के 5-7 अन्य व्यक्ति उक्त भूमि  पर जबरन कब्जा करना चाहते है।  फसल की सुरक्षा व रहने के लिए मकान आदि भी बना रखे है, जिसे ध्वस्त करने  व जान से मारने की धमकिया देते है । भूमि को अपनी बताकर जान से मारने व झूठे मुकदमे मे फंसाने की धमकियां देते है ।  जबरन जायदाद को ध्वस्त करने की कोशिश की व मौके पर लोगो द्वारा बीच बचाव किया। इन महिलाओं का आरोप है कि 2-3 बार पुलिस थाना आसीन्द पर भी रिपोर्ट पेश की, लेकिन पुलिस ने  कार्यवाही नहीं की जिससे उन लोगों के हौंसलें बुलंद है। पुलिस अधीक्षक से इन महिलाओं ने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की गुहार लगाई है।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा