दीपों के त्योहार दिवाली की धूम, देर रात तक होते रहे आतिशी धमाके रोक बेअसर

भीलवाड़ा (विजय गढ़वाल)  जिले भर में दिवाली का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है। दीपों के इस त्योहार पर लोगों ने एक दूसरे को बधाई दी तो दूसरी ओर सोशल मीडिया पर भी बधाईयों का सिलसिला शुरू हो गया है। दिवाली के अवसर पर कोरोना काल में भी लोगो ने पूजा के बाद जमकर  आतिशबाजी की। छोटे-मोटे पटाखे नहीं बल्कि बड़े बम का भी जमकर उपयोग हुआ है लोग बाजारों में भी निकले लेकिन कुछ बाजारों में  भीड़ देखने को मिली। लोग सजावट के सामान, पूजा सामग्रियां, फल-फूल और मिठाई खरीदते हुए नजर आए। वहीं, घरों के आंगन में रंगबिरंगी रंगोली भी अपनी खूबसूरती बिखेरती नजर आई।


मान्यता है कि दिवाली के दिन घर के मुख्य द्वार पर बनी रंगोली से मां लक्ष्मी जल्द प्रसन्न होती हैं और भक्तों की मनोकामना जल्द पूरी करती हैं।  भीलवाड़ा में दीपावली के पर्व को लेकर आज दिनभर जाम जमकर खरीदारी हुई वहीं शाम को करूं में पूजा अर्चना के बाद लोग बाजार में भी निकला और गली मोहल्लों में जमकर आतिशबाजी की यूं कतई नहीं लग रहा था कि कहीं आतिशबाजी पर प्रतिबंध है एनजीटी के प्रतिबंध और मुख्यमंत्री द्वारा लगेगी रोक के बावजूद भीलवाड़ा में दीपावली पर हर वर्ष की भांति इस बार भी आतिशबाजी की गई सूत्रों की मानें तो इस बार बाजार में तो पटाखे नहीं दिखे लेकिन गली मोहल्ले में चोरी-छिपे पटाखे दुगुनी रेट पर भेजे गए और लोगों ने भी जमकर खरीदें प्रतिबंध का कतई असर दिखाई नहीं दिया है देर रात तक  धमाके होते रहे।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा