आखिर ग्राम पंचायत को निरस्त करना पड़ा अनापत्ति प्रमाण पत्र

बनेड़ा ( केके भण्डारी ) बनेड़ा पंचायत समिति के ग्राम पंचायत महुआ खुर्द को आखिर चारागाह भूमि बाबत अनापत्ति प्रमाण पत्र को ग्रामीणों की नाराजगी के चलते को निरस्त करना पड़ा ।


 


यह है मामला-


महुआ खुर्द निवासी  गणपत शर्मा ने बताया कि 20 फरवरी को ग्राम पंचायत महुआ खुर्द ने कोरम में एक प्रस्ताव पारित किया गया जिसमें महुआ खुर्द ग्राम पंचायत में चारागाह भूमि में   खनन करने के लिए इतनी चारागाह भूमि अन्यत्र कोटडी तहसील में दिए जाने को लेकर ग्राम पंचायत महुआ खुर्द ने  मंजूरी देते हुए अनापत्ति प्रमाण पत्र दिया था । जिसकी भनक लगते ही समस्त ग्रामवासी आक्रोशित होकर देर रात्रि को बनेड़ा थाने का घेराव किया था जहां बनेड़ा थानाधिकारी  नेमीचंद चौधरी ने  संबंधित अधिकारियों से  तुरंत बातचीत कर उचित कार्यवाही का  आश्वासन देकर  ग्रामीणों को संतुष्ट किया था । सबसे पहले यह खबर भीलवाड़ा हलचल में प्रसारित हुई थी ।


 


मामले की गंभीरता को देखते हुए आज हुई ग्राम सभा में ग्रामीणों की नाराजगी के चलते हैं 20 फरवरी को दिए अनापत्ति प्रमाण पत्र को पुनः निरस्त किया और इसकी सूचना जिला परिषद , विकास अधिकारी  तथा एसडीएम कार्यालय को भी दी गई ।


 


इनका कहना -


महुआ खुर्द के सरपंच किशन जाट ने बताया कि चरागाह भूमि के लिए अन्य जगह की भूमि के लिए ग्राम पंचायत द्वारा जो अनापत्ति प्रमाण पत्र दिया था उसको ग्रामीणों की नाराजगी के चलते हैं वापस निरस्त किया गया ।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा