ऑल डाउन को लेकर होने वाली परेशानियों के लिए कलेक्टर ने हाथ जोड़कर मांगी माफी, बोले घरों में रहें सुरक्षित

 भीलवाड़ा हलचल। जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने मार्मिक अपील करते हुये कहा कि अगर आप भीलवाड़ा को प्यार करते हैं तो अपने घर में रहे और अगर कोई इस व्यवस्था को तोड़ता है तो इसके लिए सख्ती की जायेगी और फिर भी अगर कोई नहीं माना तो सैना की मदद ली जायेगी। भीलवाड़ा जिला कलेक्टर भट्ट ने यह बात आज पत्रकारों से वार्ता के दौरान कही। उन्होंने कहा कि मीडियाकर्मियों को जरुरत महसूस हुई तो पास दिये जायेंगे, नहीं तो किसी को भी नहीं। भट्ट ने कहा कि भीलवाड़ा में कोरोना वायरस की चेन तोडऩे के लिये यह कठौर कदम उठा रहा है। इसके लिए लोगों को हो रही तकलीफ के लिए उनसे हाथ जोड़कर माफी चाहता है। उन्होंने कहा कि भीलवाड़ा में कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नजर नहीं आयेगा। दुग्ध भी बूथ कर्मचारी घर-घर आकर सप्लाई करेंगे। उन्होंने कहा कि यह व्यवस्था दो अप्रैल से प्रायौगिक तौर पर , जबकि 3 अप्रैल को पूर्ण रूप से लागू कर दी जायेगी।  
इन्हें मिलेगी छूट-3 अप्रैल से प्रशासन की ओर से अब जारी पास खत्म हो जायेंगे। सिर्फ पेट्रोल, कृषि मंडी, गैस, विद्युत, पानी, नगर परिषद और गरीब लोगों को भोजन सप्लाई करने वाली यूआईटी से जुड़े लोगों को पास की सुविधा दी जायेगी। उन्होंने बताया कि गरीब तबके के लोगों को चिन्हित कर लिया गया है। इनमें रिक्शा चालक, भिक्षावृत्ति, बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर रहने वाले लोग, ईंट भट्टों और कुछ फैक्ट्रियों के श्रमिकों को दोनों वक्त के भोजन पैकेट उपलब्ध करवाये जायेंगे। राशन के लिए दिये गये दुकानदारों के पास भी निरस्त हो जायेंगे।
दो बार होगी सप्लाई- ऑल डाडन के दौरान 5 अप्रैल को पटरी पार के इलाके पश्चिम दिशा में, जबकि 6 अप्रैल को पटरी की पूर्व दिशा के वार्डों में राशन सामग्री सप्लाई की जायेगी, लेकिन वहां भी भीड़ न हो, ऐसी व्यवस्था की जायेगी। 
तीसरा सर्वे - बृजेश बांगड़ अस्पताल से जुड़े कोरोना पीडि़त और संभावित लोगों के दो सर्वे पूरे हो चुके हैं और तीसरा सर्वे अब किया जायेगा, जिससे कोई छूट न जाये। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों के 14 हजार लोगों का सर्वे किया गया है, जिनकी जांचें करवाई जायेगी। 
इमरजेंसी के लिए सुविधा- किसी भी तरह की इमरजेंसी, चिकित्सा के लिए प्रशासन ने पुख्ता व्यवस्था की है। कंट्रोल रूम के अलावा एडिशन कंट्रोल रूम और वार रुम बनाये गये हैं। उनके नंबर 230035, 232626, 233030, इसके अलावा अस्पताल के 102 नंबर भी हैं। 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना