कोरोना लॉकडाउन: सभी ऋण सुविधाओं पर ब्याज में माफी की मांग

भीलवाड़ा। सिंथेटिक वीविंग मिल्स एसोसिएशन की ओर से वित्त मंत्रालय को पत्र लिखकर सभी ऋण सुविधाओं पर ब्याज में माफी की मांग की गई है। पत्र में कहा गया है कि कोरोना वायरस (कोविड-19) को लेकर एमएसएमई उद्योग पिछले 2 महीनों से कठिन समय का सामना कर रहे हैं। ऐसे में गरीबों व बीपीएल परिवारों को राहत देने के लिए उद्योग सहमत हुए। बैंकों व एफएलएस को अच्छी आय प्राप्त होती है। यदि लॉकडाउन अवधि के दौरान पूरी ब्याज माफी का अच्छा पक्ष है। एसएमई क्षेत्र इस तरह के मंदी के परिदृश्य के दौरान अपने नुकसान को कम या कम कर सकता है और अगर वे आते हैं तो इससे बड़े रोजगार का योगदान होगा, भविष्य में सरकार के राजस्व में वृद्धि होगी। एसोसिएशन की ओर से ब्याज माफी की मांग की गई है।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना