ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को नहीं कोरोना का डर, धारा 144 भी बेअसर

भीलवाड़ा (हलचल)। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जहां पूरे प्रदेश में लॉकडाउन किया गया है वहीं शहर में भी कफ्र्यू लगाकर लोगों को घरों में रहने को कहा गया है वहीं ग्रामीण क्षेत्र में लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। धारा 144 की पालना भी पुलिस नहीं करवा पा रही है। ऐसे में लोगों में कोरोना संक्रमण् बढऩे की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानें व होटलें खुली हैं और लोग कोरोना के संक्रमण से अनभिज्ञ हैं।
जिलेभर से हमारे संवाददाता जानकारी दे रहे हैं कि बनेड़ा क्षेत्र में जहां लॉकडाउन किया गया है


मेघरास (हेमराज तेली)। बनेड़ा में लॉकडाउन कर दिया गया है। सब दुकानें बंद हैं और लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है। ऐसे में मेघरास, लांबिया, खातनखेड़ी, साडास व सालरिया में लोगों को कोरोना का कोई डर नहीं है। न तो पुलिस जिला कलेक्टर के आदेशों की पालना करवा पा रही है और न ही चिकित्सा विभाग की ओर से ग्रामीणों को जागरूक करने का कोई प्रयास किया जा रहा है। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमण की आशंका काफी बढ़ गई है और इस पर जल्दी ही ध्यान नहीं दिया गया तो ग्रामीण इससे संक्रमित हो सकते हैं और स्थिति भयावह हो सकती है।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा