पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा: पहली पारी में 78 प्रतिशत अभ्‍यर्थियों ने दी परीक्षा

भीलवाड़ा। प्रदेश में शुक्रवार से त्रिदिवसीय पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 2020 शुरू हुई। 5000 से अधिक पदों पर होने वाली इस परीक्षा में 7 लाख से भी अधिक अभ्‍यर्थियों ने आवेदन किया है। यह परीक्षा दो पारियों में हो रही है। एक पारी में सुबह 9 से 11 बजे तक व दूसरी पारी में दोपहर 3 से शाम पांच बजे तक परीक्षा आयोजित की जा रही है। भीलवाड़ा में भी राजेन्द्र मार्ग विद्यालय सहित 9 परीक्षा के न्द्रों पर परीक्षा
आयोजित की गई। पहली पारी की परीक्षा सुबह 9 से 11 बजे तक हुई। परीक्षा में 78 प्रतिशत अभ्‍यर्थियों ने ही भाग लिया।
पहली पारी में बैठने वाले 4584 अभ्‍यर्थियों में से 3579 अभ्‍यर्थी ही परीक्षा में बैठे। 1005 अभ्‍यर्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षा केन्द्रों में कोविड- 19 गाइडलाइन के अनुसार प्रवेश दिया गया। मास्क अनिवार्य था व सोशल
डिस्टेंसिंग के साथ प्रवेश देने के साथ ही हाथ सेनेटराइज कराए गए। कोई अनुचित सामग्री परीक्षा केन्द्र में ना ले जाए इसकी भी जांच हुई। पुलिस महानिदेशालय की ओर से जारी दिशा निर्देशों की पालना में मोबाइल फोन, हार्ड डिस्क, पेन ड्राइव, आईपैड, डेटा कार्ड, एटीएम कार्ड, तार, कैलकुलेटर, ईयर मशीन, टेबलशीट, ग्राफशीट, मैप, स्लाईड रूल इत्यादि साथ ले जाना पूरी तरह वर्जित रहा। लिखित परीक्षा के दौरान अभ्‍यर्थी के अंगुठों का बायोमैट्रिक/थम्‍ब इम्‍प्रेशन लिया गया। इससे पूर्व परीक्षा देने बड़ी संख्‍या में बाहर से पहुंचे अभ्‍यर्थियों के कारण रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड पर काफी चहल-पहल रही। धर्मशालाओं में भी रात्रि में अभ्‍यर्थी ठहरे। कई समाजों की ओर से अभ्‍यर्थियों के ठहरने की छात्रावासों में नि:शुल्क व्यवस्था की गई।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना