भाजपा नेता की पुलिस पिटाई से मौत, हाई कोर्ट ने सचिव गृह व DGP को जारी किया नोटिस

बिलासपुर। पुलिस अभिरक्षा में पिता की पिटाई से मौत की जांच और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए पुत्र ने हाई कोर्ट में याचिका दायर कर न्याय की गुहार लगाई है। बेटे की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने सचिव गृह विभाग,डीजीपी,बिलासपुर एसपी व थाना प्रभारी मरवाही को नोटिस जारी कर जवाब पेश करने के निर्देश दिए हैं। मरवाही निवासी दिनेश तिवारी ने अपने वकील के जरिए हाई कोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि वर्ष 2019 में जमीन के एक मामले में विवाद हुआ था। विवाद में घायल व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल ले जाने 112 को फोन किया था। मौके पर 112 भी पहुंचा ।


पुलिस ने उनको व उनके पिता चंद्रिका प्रसाद तिवारी को थाना ले गई। थाने में पिता को रातभर बैठाए रखा और पिटाई भी की। पिटाई के बाद पिता की हालत बेहद खराब हो गई। तब कहीं जाकर पुलिस ने इलाज के लिए वाहन बुलाया ।


बीच रास्ते में पिता की मौत हो गई । याचिका के अनुसार पिता की मौत के लिए थाना प्रभारी व स्टॉफ जिम्मेदारी है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की गुहार लगाई है। मामले की सुनवाई हाई कोर्ट के सिंगल बेंच में हुई । प्रकरण की सुनवाई के बाद कोर्ट ने गृह सचिव,डीजीपी,एसपी बिलासपुर व थाना प्रभारी मरवाही को नोटिस जारी कर जवाब पेश करने कहा है। इसके लिए कोर्ट ने चार सप्ताह की मोहलत दी है।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा