गंगापुर: सांवलिया मंदिर पर डकैती, पुजारी व चौकीदार को बंधक बनाकर पीटा, ले गये 5 लाख का माल 

  भीलवाड़ा (हलचल)। गंगापुर सर्किल अपराधियों का सुरक्षित स्थान बन चुका है। आये दिन बड़ी वारदातों को ये अपराधी बेखौफ होकर अंजाम दे रहे हैं, लेकिन पुलिस इस गिरोह को पकडऩे में नाकामयाब रही है। पुलिस की ढिलाई का इन बदमाशों ने एक बार फिर फायदा उठाकर करणसिंहजी का खेड़ा स्थित सांवलिया मंदिर पर बीती रात डकैती को अंजाम देकर करीब 5 लाख रुपये का माल लूट लिया। वारदात के दौरान डकैतों ने मंदिर के पुजारी और चौकीदार को एक कमरे में बंधक बना लिया था। रात एक बजे की इस वारदात की सूचना एक घंटे बाद जब पुलिस को मिली तो खलबली मच गई। आस-पास के गांवों में भी दहशत का माहौल है। 
गंगापुर थाना प्रभारी राजेश कुमार के अनुसार, पोटलां के पास स्थित करणसिंह जी का खेड़ा में सांवलिया मंदिर पर बीती रात एक बजे 5-6 डकैतों ने धावा बोला। इस दौरान मंदिर पर पुजारी नाथूलाल व चौकीदार जगदीश बरामदे में सोये हुये थे। 
इसी दौरान  डकैतों ने मंदिर परिसर में प्रवेश किया। चौकीदार जगदीश की नजर चोरों पर पड़ी तो वह चोर-चोर चिल्लाया। इस पर पुजारी की नींद भी खुल गई। डकैत, चौकीदार और पुजारी को बंधक बनाकर कमरे में ले गये और उन्हें बांध दिया। डकैतों ने इन दोनों के साथ मारपीट भी की।  इसके बाद डकैतों ने भगवान के चढ़ाये 6-7 किलो चांदी के छत्र, 3 तोला सोने के आभूषण, 15 से 20 हजार रुपये की नकदी लूट ली। डकैत, करीब एक घंटे तक मंदिर में रहे। 
वारदात के बाद भागते समय ये डकैत, मंदिर परिसर से दो बाइक भी ले गये। करीब एक घंटे के पश्चात पुजारी और चौकीदार ने गंगापुर पुलिस को सूचना दी। डकैती की इस वारदात से पुलिस में खलबली मच गई। पुलिस मौके पर पहुंची और वारदात की जानकारी ली। 
पुलिस ने आला अधिकारियों को वारदात से अवगत करवाया। वारदात को गंभीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक हरेंद्र महावर भी मौके पर पहुंचे और वारदातस्थल का जायजा और जानकारी ली। साथ ही पुलिस अधीक्षक ने वारदात का जल्द से जल्द खुलासा करने के भी पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये। उधर, जिला मुख्यालय से एफएसएल टीम व डॉग स्क्वायड को भी मौके पर बुलवा है, जिनकी मदद से डकैतों के सुराग तलाशे जा रहे हैं। आपकों बता दें कि गंगापुर थाने के साथ ही सीओ सर्किल के रायपुर सहित अन्य थाना इलाकों में आये दिन चोरी, लूट जैसी बड़ी वारदातें हो रही है, लेकिन पुलिस इन वारदातों का न तो रोकथाम कर पाई है और न ही किसी वारदात को ट्रेस करने में सफलता हांसिल की है। ऐसे में इलाके के लोगों में दहशत का माहौल है। 


 सर्राफा कारोबारी के घर लाखों की लूट का नहीं हो सका खुलासा
रायपुर थाना सर्किल में पिछले दिनों डकैतों ने एक बुजुर्ग सर्राफा कारोबारी व उसकी पत्नी को बंधक बनाकर लाखों रुपये के गहने और नकदी लूट ली थी। इस वारदात को करीब एक माह बीतने को है, लेकिन पुलिस अब तक इस मामले में डकैतों का कोई सुराग नहीं ढूंढ पाई है। 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा