ग्रामीण कर रहे थे रंग खेलने की तैयारी, कातिल ने खेली खून की होली, प्रौढ़ की सिर कुचल कर हत्या

 भीलवाड़ा हलचल। करेड़ा थाने के पिपलिया गांव में सोमवार की रात जहां आमजन होली के त्योंहार पर खुशियां मना रहे थे। वहीं इसी गांव के ही एक प्रौढ़ की अज्ञात लोगों ने पत्थर से सिर कुचलकर हत्या कर दी। वारदात गांव से एक किलोमीटर दूर गाजूणा-सुराज कच्चे रास्ते पर एक खेत पर हुई। मंगलवार सुबह जब इस प्रौढ़ की खून से सनी लाश ग्रामीणों ने देखी तो रंगों के त्योंहार धूलंडी की खुशियां गम में बदल गई। बड़ी संख्या में ग्रामीण  मौके पर जमा हो गये। पुलिस ने करेड़ा अस्पताल में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। सूत्रों की मानें तो प्रौढ़ की हत्यारों का पुलिस के हाथ अहम सुराग लगा है । कातिल, प्रौढ़ का नजदीकी हो सकता है। पुलिस जल्द ही कत्ल का खुलासा कर सकती है। 
पुलिस सूत्रों के मुताबिक, पिपलिया निवासी मि_ूसिंह रावत (50) मजदूरी करता था। सोमवार शाम करीब 6 बजे वह घर से निकला था। इसके बाद रात करीब नौ बजे उसने परिवार के सदस्यों को फोन कर होली देखने बुलाया था। इसके बाद मिट्टू सिंह का परिजनों से संपर्क नहीं हो सका। वह रातभर घर नहीं लौटा। परिजन, इसे लेकर चिंतित थे। इस बीच, मंगलवार सुबह गाजूणा-सुराज गांव के कच्चे रास्ते पर पिपलिया गांव के मग्गासिंह रावत के खेत पर स्थित भैंरूजी के स्थान के पास ग्रामीणों ने एक लाश पड़ी देखी। पत्थारों की कोट की ओट में पड़ी मिली लाश की सूचना राहगीरों ने पुलिस व ग्रामीणों को दी। देखते ही देखते वहां बड़ी संख्या में ग्रामीण जमा हो गये। सूचना पर एएसपी सहाड़ा डॉ. राजेश कुमार, तहसीलदार, डीएसपी आसींद रोहित मीणा, आसींद थाना प्रभारी राजकुमार नायक, करेड़ा थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद, रायपुर थाना प्रभारी नारायण सिंह, बागौर थाना प्रभारी खींवराज गुर्जर मय जाब्ता मौके पर पहुंच गये। 
वारदातस्थल का जायजा लेते हुये मृतक की पहचान पीपलिया निवासी मिट्टूसिंह रावत के रूप में की। रावत का सिर पत्थरों से कुचला हुआ मिला। शव के पास ही पत्थर पड़े थे। पुलिस ने मृतक के परिजनों से जानकारी ली। उधर, मिट्टू सिंह की हत्या की खबर से परिजनों की चीत्कार फूट पड़ी। रंगों के त्योंहार धूलंडी की खुशियां मातम में बदल गई। ग्रामीणों में शोक छा गया। वहीं इस वारदात से दहशत फैल गई। पुलिस ने शव को कब्जे में कर करेड़ा अस्पताल पहुंचाया, जहां मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने परिजनों की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज किया है। 


एक किलो मीटर चला डॉग, पुलिस को मिला सुराग 
पुलिस ने जिला मुख्यालय से डॉग स्क्वायड को मौके पर बुलवा लिया। डॉग ने शव को सुंघा और वहां से चलकर एक किलोमीटर दूर पिपलिया गांव में मृतक के घर से कुछ दूरी तक जाने के बाद रुक गया। डॉग स्क्वायड से मिले सुराग के बाद पुलिस की शव की सूई मृतक के नजदीकी के इर्द-गिर्द केंद्रित हो गई। पुलिस इसे अहम सुराग मानते हुये जांच में जुटी है। सूत्रों की माने तो जल्द ही कत्ल की इस वारदात का खुलासा हो जायेगा। 
 
दो बेटों और दो बेटियों का पिता था मिट्टू सिंह
पुलिस की माने तो मिट्टू सिंह रावत दो बेटों और दो बेटियों का पिता था। उसकी मौत ने परिजनों व इन बच्चों को झकझौर दिया। पिता का साया उठने से बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। 


 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा