गुरू शिष्य की प्रगति देख कर खुश होता - संत हरिदास

राजसमन्द( राव दिलीप सिंह)राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय आक्या में शुक्रवार को आड़ावाला के महंत हरि दास ने बच्चो को सेवा का महत्व समझाया। संत ने कहा कि भगवान की कृपा से मनुष्य जीवन मिलता है। बच्चो को माता पिता गुरू की आज्ञा का पालन करना चाहिए। ये हमे महान बनाता है। गुरू का आशीर्वाद ही व्यक्ति को आगे बढ़ाता है। एक गुरू ही है जो शिष्य की प्रगति देख कर खुश होता है। प्राणी मात्र की सेवा से आयु, विद्या, यश एवं बल मिलता हैं। संत ने बच्चो को माता पिता गुरू चरणो में प्रणवत बारम्बार हम पर किया बड़ा उपकार भजन सुनाया एवं उसके महत्व को विस्तार से बताया। संत ने पुरे विद्यालय का अवलोक कर गार्डन, वाॅटर हार्वेस्टिंग सिस्टम, हरित पाठशाला वाटिका, कक्षा कक्षो की बैठक व्यवस्था एवं साज सज्जा आदि व्यवस्थाओ का अभी अवलोकन किया। संत ने कक्षा 8 के बच्चो को तिलक उपरना एवं पेन देकर बोर्ड कक्षा में अच्छे अंक का आशीर्वाद दिया। संस्था प्रधान भंवर सिंह चुण्ड़ावत ने संत का परम्परागत स्वागत किया। इस दौरान गोकुल राम बुनकर, सुरेन्द्र सिंह, जितेन्द्र कुमार, भादरराम, पंकज गाडरी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सरिता वैष्णव सहित विद्यालय के बच्चे उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन गणपत लाल चौधरी ने किया। 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा