कोरोना वायरस: 250 से ज्यादा लोगों की आज हुई स्क्रीनिंग, बापूनगर में भी पहुंची टीम

भीलवाड़ा। चिकित्सा महकमे का हौंसला इस विपत्ति की घड़ी में देखने को मिल रहा है। सुबह से लेकर देर रात तक महकमे की टीम चिकित्सा व स्क्रीनिंग के काम में जुटी है।
कोरोना वायरस का जनक बृजेश बांगड़ हॉस्पिटल के बाद उपचार का केंद्र बना महात्मा गांधी अस्पताल के पीएमओ डॉ. अरूण गौड़ अन्य चिकित्सकों के साथ आधी रात तक उपचार व व्यवस्थाओं के लिए जूझ रहे हैं। इनका जज्बा देखिए कि साधनों की कमी के बावजूद वहां पहुंच रहे मरीजों के लिए हाथों-हाथ व्यवस्थाएं की जा रही हैं। आइसोलेशन वार्ड को कफ्र्यू जैसा बना दिया गया है। वहीं कर्मचारियों को पाबंद कर दिया गया है कि वे सतर्क रहें। उधर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मुश्ताक खान के नेतृत्व में डॉ. घनश्याम चावला व उनकी टीम सुबह से लेकर देर रात तक बांगड़ अस्पताल में कोरोना पॉजीटिव चिकित्सक व अन्य स्टाफ के संपर्क में आए लोगों और कर्मचारियों के साथ ही विदेशों से आ रहे लोगों की स्क्रीनिंग में लगी हुई है। उनका जज्बा यह है कि वे ज्यादा से ज्यादा लोगों की स्क्रीनिंग करे। शनिवार को इस टीम ने 250 लोगों की स्क्रीनिंग की है वहीं बापू नगर भी यह टीम पहुंची। जिस कोरोना संदिग्ध व्यक्ति की मौत होने की बात सामने आई है, उसके घर पहुंची टीम ने वहां भी स्क्रीनिंग की है। इसी के साथ समाचार लिखे जाने तक दो महिलाओं सहित चार जने और बांगड़ हॉस्पिटल का हवाला देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के ऑफिस में पहुंच अपनी जांच करवाने पहुंचे हैं। 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा