प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी महिला की बात सुनकर हुए भावुक

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज जन औषधि दिवस पर एक रकवा ग्रस्त महिला से बात करने के दौरान भावुक हो गए। मिली जानकारी के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बात करने के दौरान महिला ने कहा कि उसने भगवान तो नहीं देखा है, लेकिन नरेंद्र मोदी को देखा है। यह कहने के बाद महिला प्रधानमंत्री से बात करने के दौरान रोने लगी है। महिला से बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी भावुक हो गए।
इस दौरान महिला दीपा शाह ने बताया कि वो लकवा मरीज है, पहले दवा खरीदने में उसके 5000 रुपए खर्च हो जाते थे. लेकिन जब से उसने जन औषधि से दवाएं लेना प्रारंभ किया। तब से दवाओं का खर्चा 1500 तक आ गया है। महिला ने बताया कि वह बाकी बचे पैसों से घर चलाती है और फल खरीदती हैं।

इस अवसर पर जन औषधि दिवस के लाभार्थियों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जनऔषधि दिवस सिर्फ एक योजना को सेलिब्रेट करने का दिन नहीं है, बल्कि उन करोड़ों भारतीयों, लाखों परिवारों के साथ जुड़ने का दिन है, जिनको इस योजना से बहुत राहत मिली है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ये देश के हर व्यक्ति तक सस्ता और उत्तम इलाज पहुंचाने का संकल्प है। उन्होंने संतोष जताया कि अब तक 6 हजार से अधिक जनऔषधि केंद्र पूरे देश में खुल चुके हैं



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा