कोरोना की आ गई दूसरी लहर ? लोग बरत रहे है ढिलाई

भीलवाड़ा (हलचल)। जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं लेकिन भीलवाड़ा में तो इसके विपरीत ही लोग जमकर ढिलाई बरत रहे है और मास्क 80 फीसदी लोगों के चेहरों पर नजर नहीं आ रहा है। दूसरी ओर कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है और माना जा रहा है कि इसकी दूसरी लहर शुरू हो गई है। अगर लोग अब भी लापरवाह रहे तो आने वाले दिनों में हालत और गंभीर होने से इन्कार नहीं किया जा सकता है।
भीलवाड़ा में कोरोना संक्रमण का सबसे पहले कहर टूटा था तब कुछ ही मरीजों का भीलवाड़ा में लॉक डाउन कर दिय गया था लेकिन आज उससे कई गुणा अधिक मरीज आ रहे है वे भी काफी कम जांचों में। अगर पहले की तरह जांच का आंकड़ा पूरा हो तो इनकी संख्या रोजाना शतक से कम नहीं आयेगी। त्यौहारों के चलते जांच में भी कमी आई है और यही वजह है कि संक्रमित लोगों के आंकड़े तो कम आ रहे है लेकिन वास्तविक स्थिति इससे काफी अलग है। भीलवाड़ा में गुरूवार को 34 लोग संक्रमित आये है जबकि दो सौ से भी कम लोगों की जांचे हुई है। अगर पहले ही तरह हजार-आठ सौ लोगों की जाचें होगी तो यह काफी बढ़ जायेगी। वर्तमान में रेंडम जांच तो बिल्कुल ही बन्द पड़ी है। 
दीपावली के बाद बढ़ेगी संक्रमितों की संख्या :
दीपावली पर प्रदूषण और लोगों का मेल मिलाप का सिलसिला अगर नहीं थमा तो संक्रमितों की संख्या काफी बढ़ जायेगी। भीलवाड़ा में अभी मास्क लगाने की परम्परा भी बन्द होती नजर आ रही है। दुकानों पर खरीददारों की भीड़ लगी है लेकिन सोशल डिस्टेसिंग कहीं भी नजर नहीं आ रही है। 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा