पारिवारिक न्यायालय का चपरासी 40000 की रिश्वत  लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

चूरू / बीकानेर एसीबी ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए आज  चूरू के पारिवारिक न्यायालय के चपरासी को 40000 की रिश्वत की राशि लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है चूरू भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आनंद प्रकाश स्वामी बीकानेर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रजनीश पूनिया ने बताया कि परिवार दिया सोनिया जो सूरतगढ़ की रहने वाली है पीहर सूरतगढ़ है ससुराल सरदारशहर है  उसका तलाक का मामला पारिवारिक न्यायालय में चल रहा है 2015 से मामला विचाराधीन है इस मामले में परिवारिक न्यायालय के न्यायधीश ने बेटी के भरण पोषण के 5000 प्रतिमाह व पेशियों के लिए  ढाई हजार रुपए भरण पोषण के निश्चित किए थे जो अब तक तकरीबन 5लाख रूपये बनते हैं परीवादिया  के पति ने भुगतान नहीं किया इस पर 5लाख रुपए दिलवाने और पति का वारंट करवाने के लिए व कुर्की की कार्रवाई करवाने के लिए 1लाख रुपए की रिश्वत मांगी गई थी भगवती सैनी ने मांगी थी इसका सत्यापन चूरु एसीबी के आनन्द प्रकाश स्वामी ने करवाया सत्यापन 1लाख का हुआ 10 हजार उसी दिन सत्यापन के दिन ले लिए थे पारिवारिक न्यायालय के न्यायाधीश के ड्राइवर भगवती प्रसाद सैनी ने ले ली थी 90 हजार आज 5 तारीख को देने तय हुए थे आरोपी के द्वारा बार-बार व्हाट्सएप पर संपर्क किया जा रहा था कि कब देने के लिए आ रहे हो आज 5 तारीख  पेशी थी जब आना था तो पैसे लेकर आने थे कि मैं पैसे ले आओगे तो आदेश करवा दूंगा और वारंट जारी करवा दूंगा भगवती प्रसाद सैनी से परिवादिया ने कहा कि ₹90000 नहीं बना ₹40000 ही है तो इसके द्वारा आज ₹40000 बतौर रिश्वत दिए इसी दौरान चूरू व बीकानेर एसीबी की टीम ने रंगे हाथों भगवती सैनी को गिरफ्तार कर लिया पारिवारिक न्यायालय के सामने कार्रवाई की है।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना