Monday, March 1, 2021

बीकानेर से ट्रेनिंग देने गुलाबपुरा आये सिक्यूरिटी कंपनी के ट्रेनर की गेस्ट हाउस में फंदे से लटकी मिली लाश


 भीलवाड़ा हलचल। बीकानेर से ट्रेनिंग देने आये निजी सिक्यूरिटी कंपनी के एक ट्रेनर का शव गुलाबपुरा इलाके में स्थित सीआईएसएफ कॉलोनी के गेस्ट हाउस में पंखे से लटका मिला। ट्रेनर को आखरी बार रविवार सुबह देखा गया था। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर गुलाबपुरा अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवाया है, जिसका पोस्टमार्टम परिजनों के आने के बाद होगा। अभी खुदकुशी के कारण भी सामने नहीं आये हैं। 
गुलाबपुरा थाने के सहायक उप निरीक्षक मदन लाल ने हलचल को बताया कि बीकानेर की मधुवन कॉलोनी निवासी काव्यसिंह (33) पुत्र बेअंतसिंह जज सिक्यूरिटी कंपनी आरएस ग्रुप में बतौर ट्रेनर काम कर रहा था। काव्य सिंह 27 फरवरी को सिक्यूरिटी कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने के लिए गुलाबपुरा आया था। वह वह हिंदुस्तान जिंक की सीआईएसएसएफ स्थित गेस्ट हाउस में रह रहा था। 
काव्य सिंह ने यहां आने के बाद उसी दिन शाम को व अगले दिन 28 फरवरी को सुबह 6 से 7 बजे के बीच सिक्यूरिटी कर्मचारियों  को ट्रेनिंग दी। इसके बाद काव्य सिंह को कोटा जाना था, लेकिन वह गेस्ट हाउस में ही रुका। इसकी भनक कंपनी से जुड़े लोगों को नहीं लगी। उधर, सोमवार को बाहर से कोई अधिकारी आये। उन्हें गेस्ट हाउस में रोकना था, इसके लिए चॉबी की तलाश की लेकिन चॉबी नहीं मिली। इसे लेकर एक गार्ड को गेस्ट हाउस भेजा। गार्ड को गेस्ट हाउस का गेट बाहर से खुला और अंदर से बंद मिला। उसने इस बात की जानकारी मैनेजर को दी। इसके बाद कुछ लोग वहां गये और आवाज दी, लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। इसके चलते दरवाजे का धक्का देकर खोला गया। 
अंदर कमरे में काव्य सिंह बेडसीट के सहारे पंखे से लटका मिला। यह देखकर मौजूद लोग सकते में आ गये। सूचना पुलिस को दी। इस पर सहायक उप निरीक्षक मीणा मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लेने के बाद शव को पंखे से उतरवा कर पोस्टमार्टम के लिए गुलाबपुरा अस्पताल स्थित मोर्चरी भिजवा दिया।  अभी खुदकुशी के कारण सामने नहीं आये हैं। 

पहले तकिये की खोली से फंदा बनाने की कोशिश की
काव्य सिंह ने खुदकुशी करने के लिए पहले तकिये की खोली को फाड़ कर फंदा बनाने की कोशिश की, लेकिन जब वह पंखे तक नहीं पहुंच पाया तो उसने बेड सीट का फंदा बनाया और पंखे से लटक गया। 

पर्स में नहीं मिला एक भी रुपया
एएसआई मीणा के अनुसार, काव्य सिंह का मौके पर पर्स मिला। पर्स में दो एटीएम कार्ड, लाइसेंस, आधार कार्ड मिला। पर्स में एक भी रुपया नहीं था। वहीं मौके पर मोबाइल भी मिला, लेकिन वह भी लॉक मिला। पुलिस अब मोबाइल का लॉक खुलवाने के लिए एक्सपर्ट की मदद लेंगी। 

पत्नी बीकानेर और मां अहमदाबाद में रहती है
पुलिस ने यह भी बताया कि काव्य सिंह की पत्नी बीकानेर में रहती है। वहीं उसकी मां गुजरात के अहमदाबाद में रहती है। इनके आने के बाद ही पुलिस शव का पोस्टमार्टम करवायेगी। 

 

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...