उमंग और उत्साह के साथ आयोजित होगा चित्तौड़गढ़ फोर्ट फेस्टिवल

 


चित्तौड़गढ़। 12 और 13 मार्च को आयोजित हो रहे तृतीय फोर्ट फेस्टिवल के सन्दर्भ में जिला कलक्टर के के शर्मा ने बुधवार को ग्रामीण विकास सभागार में पत्रकार वार्ता को संबोधित किया और फोर्ट फेस्टिवल के पोस्टर का विमोचन भी किया। जिला कलक्टर ने बताया कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर इस बार फोर्ट फेस्टिवल तीन दिवसीय के जगह दो दिवसीय रखा गया है। कलक्टर ने कहा कि हम चाहते थे कि फोर्ट फेस्टिवल की परंपरा नहीं टूटे, इसलिए तय किया गया है कि इस बार भी फोर्ट फेस्टिवल का आयोजन होगा। उन्होंने बताया कि फेस्टिवल को लेकर समस्त कार्यक्रमों की तैयारियां पूर्ण कर ली गई है और हमारा चित्तौड़गढ़ फोर्ट अपने मेहमान पर्यटकों के स्वागत हेतु तैयार है।

पोस्टर विमोचन कर लोगों को किया आमंत्रित

जिला कलक्टर ने फोर्ट फेस्टिवल के खुबसुरत पोस्टर का विमोचन किया। फोर्ट फेस्टिवल के लिए बनाए गए पोस्टर कई मायनों में ख़ास है। इसमें आम फोटोग्राफ न होकर एक चित्रकार की बेहतरीन कलाकारी के दर्शन हो रहे हैं। भीलवाडा निवासी के. जी. कदम ने ये चित्र बनाए हैं, इन चित्रों का उपयोग मुख्य पोस्टर के साथ-साथ अलग-अलग कार्यक्रमों बनाए गए पोस्टर्स में किया है। चित्रकार कदम ने अपनी कला से शोभायात्रा, रन फॉर फोर्ट, रस्सा-कशी आदि को उकेरा है। ये पोस्टर्स शहर के विभिन्न स्थलों पर देखा जा सकते हैं।

ये रहेगा कार्यक्रम

कार्यक्रम अनुसार 12 मार्च को गोरा बादल स्टेडियम में फेस्टिवल का उद्घाटन होगा। इसी दिन गोरा बादल स्टेडियम से फ़तेह प्रकाश संग्रहालय तक शोभायात्रा निकलेगी। इसके बाद फ़तेह प्रकाश संग्रहालय में पतंगबाजी का आयोजन होगा। यहीं पर्यटकों हेतु मनोरंजक प्रतियोगिताएं, अश्व प्रतियोगिताएं, रंगोली प्रतियोगिता आयोजित होंगी। इसके अलावा विभिन्न स्थलों पर राजस्थानी लोक कलाकारों द्वारा प्रस्तुति, फ़तेह प्रकाश संग्रहालय में आर्ट केम्प, इंदिरा गाँधी ऑडिटोरियम में सांस्कृतिक संध्या आदि का आयोजन किया जाएगा।  

इसी प्रकार से 13 मार्च को सुबह योगाभ्यास कार्यक्रम, रन फॉर फोर्ट, फ़तेह प्रकाश संग्रहालय में पतंगबाजी, पर्यटकों हेतु मनोरंजन प्रतियोगिताएं, अश्व प्रतियोगिताएं, विभिन्न स्थलों पर राजस्थानी लोक कलाकारों द्वारा प्रस्तुती, फ़तेह प्रकाश संग्रहालय में आर्ट केम्प, रतन सिंह तालाब में दीपदान और इंदिरा गाँधी ऑडिटोरियम में सांस्कृतिक संध्या आदि का आयोजन होगा। गुरुवार से ही दुर्ग पर भव्य रौशनी की जाएगी, जो 14 तारीख तक रहेगी।

कुछ नए कार्यक्रम जोड़े तो कुछ हटाए-

जिला कलक्टर ने बताया कि इस बार स्टार नाईट नहीं रखी गई है, केवल राजस्थानी सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। इसी प्रकार दुसरे दिन सुबह योगाभ्यास कार्यक्रम रखा गया है तो वहीँ दांडी मार्च की झांकी को शोभायात्रा में शामिल किया गया है, इसके अलावा दुसरे दिन केमल शो जोड़ा गया है, जो पहले कभी नहीं हुआ। इसके साथ ही पहली बार आर्ट केम्प रखा गया है जहाँ हमें चित्रकारों की बेहतरीन चित्रकारी के भी दर्शन होंगे। तो वहीं पहली बार दुर्ग पर भव्य रौशनी की जा रही है, जो कि गुरुवार से तीन दिन तक रहेगी। जिला कलक्टर ने कहा कि कोशिश की जाएगी कि कोई कार्यक्रम अनावश्यक रूप से लम्बा न चले। उन्होंने यह भी कहा कि फेस्टिवल को लेकर पूरे चित्तौड़गढ़ में उत्साह देखा जा रहा है।    

जिला कलक्टर ने आमजन से की अपील

पत्रकारों को संबोधित करते हुए कलक्टर शर्मा ने कहा कि "ये कार्यक्रम चित्तौड़गढ़ के लोगों का अपना कार्यक्रम है, आप इसमें भाग लेकर इसे सफल बनाएं। इसी के साथ कलक्टर ने आमजन से अपील की है कि सभी कोरोना गाइडलाइंस का भी पालन करें और मास्क पहन कर आएं। उन्होंने कहा कि चित्तौड़गढ़ फोर्ट फेस्टिवल के माध्यम से चारों ओर एक सकारात्मक सन्देश जाना चाहिए। प्रेस कोंफ्रेंस में एडीएम अम्बालाल मीणा, एसडीएम श्यामसुन्दर विश्नोई, पीआरओ प्रवेश परदेशी, जिला उद्योग केंद्र महाप्रबंधक राहुल देव सिंह, सहायक पर्यटन अधिकारी शरद व्यास और पत्रकार मौजूद रहे।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक