भाजपा ने झारखंड से दीपक प्रकाश, बिहार से विवेक ठाकुर को दिया राज्यसभा का टिकट

रांची : दिशोम गुरु शिबू सोरेन के नामांकन दाखिल करने के बाद बुधवार (11 मार्च, 2020) को भारतीय जनता पार्टी ने भी झारखंड से राज्यसभा के अपने उम्मीदवार के नाम का एलान कर दिया. भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने झारखंड प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दीपक प्रकाश को पार्टी का उम्मीदवार बनाया है. झारखंड की दो राज्यसभा सीटों पर 26 मार्च को मतदान होना है. भाजपा को उम्मीद है कि वह एक सीट आसानी से जीत लेगी.


दीपक प्रकाश 25 फरवरी, 2020 को झारखंड प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष बनाये गये थे. इससे पहले वह प्रदेश भाजपा के संगठन महामंत्री थे. झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 में भाजपा की हार के बाद प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद 25 फरवरी, 2020 को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने उन्हें प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया था. उस वक्त दीपक प्रकाश भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री थे.


नयी दिल्ली में पार्टी की केंद्रीय समिति की बैठक में 9 राज्यों के उम्मीदवारों की घोषणा की गयी. इसमें झारखंड से दीपक प्रकाश, बिहार से विवेक ठाकुर, असम से भुवनेश्वर कलीता, गुजरात से अभय भारद्वाज और रमीलाबेन बारा, मणिपुर से लिएसेबा महाराजा, मध्यप्रदेश से ज्योतिरादित्य सिंधिया, महाराष्ट्र से श्रीमंत उदयना राजे भोंसले और राजस्थान से राजेंद्र गहलोत शामिल हैं.


इतना ही नहीं, पार्टी ने अपने सहयोगी दलों के दो उम्मीदवारों के नाम भी बताये हैं. इसमें महाराष्ट्र से आरपीआइ (ए) के रामदास अठावले और असम से बीपीएफ के बुस्वजीत डाइमरी शामिल हैं.


केंद्रीय समिति की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, सड़क परिहवन, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी एवं केंद्रीय चुनाव समिति के सभी सदस्य उपस्थित थे.


झारखंड की दो राज्यसभा सीटों के लिए 26 मार्च को चुनाव होंगे. इसी दिन शाम को 5 बजे नतीजे घोषित कर दिये जायेंगे. निर्दलीय सांसद परिमल नथवाणी और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रेमचंद गुप्ता का कार्यकाल 9 अप्रैल, 2020 में खत्म हो रहा है.


चुनाव जीतने के लिए एक उम्मीदवार को कम से कम 28 विधायकों का वोट जरूरी होगा. झामुमो के पास 30 विधायक हैं. बाबूलाल मरांडी के भाजपा में शामिल होने के बाद इस पार्टी के सदस्यों की संख्या 26 हो गयी है. ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (आजसू) पार्टी के दो विधायकों को मिला लें, तो भाजपा समर्थक विधायकों की संख्या 28 हो जाती है.


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा