Tuesday, March 9, 2021

पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर विपक्ष का हंगामा, दोपहर 2 बजे तक लोकसभा स्थगित


नई दिल्ली । संसद का कामकाज आज (मंगलवार) से अपने सामान्य समय पर हो रहा है, जैसे कोरोना काल से पहले होता था। दोनों सदनों की कार्यवाही मंगलवार को पहले की तरह निर्धारित समय सुबह 11 बजे शुरू हुई और शाम छह बजे तक चलेगी। बता दें कि कोरोना महामारी के कारण पिछले साल मानसून सत्र से राज्यसभा की कार्यवाही सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक चल रही थी। वहीं शाम 4 बजे से रात्रि 9 बजे तक लोकसभा की कार्यवाही चल रही थी। सोमवार आठ मार्च से बजट सत्र का दूसरा चरण शुरू हुआ। इस दौरान पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की महंगाई को लेकर खूब हंगामा हुआ। इसे लेकर आज भी हंगामा हुआ। 

- लोकसभा की कार्यवाही दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दी गई है। 

 - राज्यसभा की कार्यवाही भी  दोपहर 12बजे तक स्थगित कर दिया गया है। विपक्षी सांसदों के सरकार के खिलाफ नारे लगाए और पेट्रोल-डीजल की मूल्य वृद्धि पर चर्चा की मांग की।

- विपक्ष के हंगामे के बीच लोकसभा की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

लोकसभा में  रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि एक अच्छी ईमानदार,पारदर्शी व्यवस्था किसानों के हित में हो और किसानों को उनका पूरा पैसा मिले। देश के करदाताओं का पैसा गलत जगह न जाए यह हम सब की सामूहिक ज़िम्मेदारी है।

- पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर विपक्षी सांसदों ने सरकार के खिलाफ राज्यसभा में नारे लगाए। 

- राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही शुरू ।

-राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि पर सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया।

-कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की बढ़ती कीमतों पर चर्चा के लिए लोकसभा में एडजर्नमेंट ऑफ बिजनेस मोशन दिया। ह

- बीएसपी सांसद सतीश चंद्र मिश्रा ने ईंधन मूल्य वृद्धि को लेकर राज्यसभा में सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया।

आज से सामान्य समयानुसार कार्यवाही

राज्यसभा में पीठासीन अध्यक्ष वंदना चव्हाण ने सभापति एम. वेंकैया नायडू के लिखित संदेश के हवाले से बताया कि मंगलवार से संसद की कार्यवाही सुबह 11 बजे शाम छह बजे तक चलेगी। बाद में, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भी घोषणा की कि मंगलवार से सामान्य समयानुसार सुबह 11 बजे से सदन की कार्यवाही शुरू होगी। बजट सत्र का पहला चरण 29 जनवरी को राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द के संबोधन के साथ शुरू हुआ और 29 फरवरी को संपन्न हुआ। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को केंद्रीय बजट संसद में पेश किया था।

बजट सत्र के दूसरे चरण के पहले दिन उठा महंगाई का मुद्दा

बजट सत्र के दूसरे चरण के पहले दिन पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की महंगाई को लेकर सरकार को घेरते हुए विपक्ष ने संसद के दोनों सदनों में भारी हंगामा किया। संसद के दोनों सदनों में कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस देकर विपक्ष ने पेट्रोलियम उत्पादों पर लगातार बढ़ाए गए टैक्स में कमी के साथ बहस की मांग करते हुए सदन को ठप कराया। पेट्रोल, डीजल की कीमतों को लेकर हुए हंगामे के साथ ही संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण शुरू हो गया।

चुनाव के मद्देनजर समय से पहले खत्म होगा बजट सत्र

पांच राज्यों के चुनाव के मद्देनजर बजट सत्र को समय से पहले ही समाप्त किए जाने के प्रबल आसार हैं। तृणमूल कांग्रेस समेत कई राजनीतिक दलों ने चुनाव के मद्देनजर बजट सत्र को स्थगित करने का आग्रह किया है। 8 मार्च को शुरू हुआ बजट सत्र का दूसरा चरण 8 अप्रैल को समाप्त होने वाला है, लेकिन चुनाव के कारण होली से पहले इसके समापन की संभावना है।

 

वैक्सीन की कमी, ऑक्सीजन की नहीं: रघु शर्मा

बोले- जनता के गले उतरने वाले फैसलों से कांग्रेस जीतेगी तीनों विधानसभा सीटें भीलवाड़ा (संपत माली)।  चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा है क...