हरणी महादेव में 51 फीट ऊंचा और 721 किलो का त्रिशूल स्थापित

 


 भीलवाड़ा हलचल। हरणी महादेव मंदिर के प्रवेशद्वार के पास बुधवार सुबह 51 फीट ऊंचा अष्टधातू निर्मित त्रिशूल स्थापित किया गया। इस मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।
मंदिर सूत्रों के अनुसार, हरणी महादेव मंदिर के मुख्य प्रवेशद्वार पर सुबह सवा ग्यारह बजे मंत्रोच्चार के बीच, 51 फीट उऊंचा अष्टधातु निर्मित त्रिशूल स्थापित किया गया। इससे पहले त्रिशूल की भगवती महाराजव मदनगिरी गोस्वामी ने पूजा-अर्चना की। यह त्रिशूल बरसनी निवासी ब्रह्मपुरी पुत्र मांगू पुरी ने भेंट किया  है। 
ब्रह्मपुरी ने हलचल को बताया कि उसने 21 त्रिशूल की श्रद्धा की है। इनमें से चार त्रिशूल अब तक भेंट किये जा चुके हैं। जो शेष हैं, उन्हें जैसे-जैसे मन्नत पूरी होती जायेगी, भोले नाथ को अर्पण किये जायेंगे। ब्रह्मपुरी ने बताया कि ये त्रिशूल अष्टधातू से निर्मित और 721 किलो वजनी है। सभी त्रिशूल एक जैसे बने हुये हैं। ब्रह्मपुरी ने कहा कि पहला त्रिशूल उन्होंने बरसनी में, दूसरा पांसल, तीसरा हरणी महादेव और चौथा बदनौर में स्थापित करवाया है। उधर, इस मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु, मंदिर ट्रस्ट के पदाधिकारी, भाजपा जिलाध्यक्ष लादूलाल तेली, पूर्व सभापति मंजू पोखरना आदि मौजूद थे। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना