पुलिस व माइनिंग टीम की बनास में दबिश, 5 डंपर पकड़े, बजरी माफिया सिपाही से धक्का-मुक्की कर ले उड़े दो डंपर

 

 भीलवाड़ा हलचल। हमीरगढ़ पुलिस और माइनिंग टीम ने बनास में दबिश देकर 5 डंपर डिटेन किये, लेकिन चौकी पर ले जाने के दौरान बजरी माफियाओं ने रास्ते में माइनिंग विभाग के सिपाही से धक्का-मुक्की कर दो डंपर छुड़ा लिये। इसे लेकर माइनिंग विभाग ने सात लोगों के खिलाफ हमीरगढ़ थाने में केस दर्ज करवाया है।
हमीरगढ़ थाना प्रभारी पन्ना लाल ने हलचल को बताया कि गुरुवार रात 3 बजे माइनिंग विभाग के माइंस फोरमेन के साथ संयुक्त रूप से कान्याखेड़ी स्थित बनास में दबिश दी।जहां बजरी भरे 5 डंपर मिले। इन डंपर्स को स्वरुपगंज चौकी पर रवाना किया गया। इनमें से दो डंपर को माइनिंग विभाग के सिपाहियों को बैठाकर चौकी भेजा, लेकिन कान्याखेड़ी चौराहे पर एक बिना नंबरी डस्टर व स्कॉर्पियो से आये सात लोगों ने दो डंपरों को रोक लिया। 
डंपर में सवार माइनिंग विभाग के सिपाहियों को नीचे उतार कर उनसे धक्का-मुक्की ओर दो डंपर को छुड़ाकर एस्कॉर्ट करते हुये ले गये। जबकि तीन डंपर चौकी पर सुरक्षित पहुंच गये। इस घटना को लेकर माइंस फोरमेन ललित सिंह ने एक रिपोर्ट हमीरगढ़  थाने में दर्ज करवाया। सिंह ने इस रिपोर्ट में विनोद गुर्जर, हर्षवर्धन सिंह, विजेंद्र सिंह उर्फ उड़ाक बना, दीनदयाल जाट, अजय सिंह, युवराज सिंह व सत्तू गुर्जर को आरोपित बनाया है। थाना प्रभारी का कहना है कि आरोपितों की डस्टर बिना नंबरी थी, जबकि स्कॉर्पियो से बीच के  नंबर मिटे थे। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस नामजद आरोपितों की तलाश कर रही है।  

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक