कहीं आपकी बॉडी में कैल्शियम की कमी तो नहीं? जानिए लक्षण और उपचार

 


 लाइफस्टाइल डेस्क। मॉडर्न लाइफस्टाइल के चलते हमारी खाने-पीने की आदतें काफी बदल गई हैं। हमारी डाइट में पौष्टिक चीजें कम और जंक फूड्स, तली भुनी चीजें, कोल्ड ड्रिंक्स, चॉकलेट, चिप्‍स, आइस्क्रीम ज्यादा शामिल हो गया है। खानपान में गड़बड़ी का सबसे बड़ा असर बॉडी में कैल्शियम की कमी के रूप में सामने आता है। कैल्शियम की कमी एक आम समस्या है जो हेल्‍थ को बुरी तरह से प्रभावित कर सकती है। कैल्शियम हमारी बॉडी के लिए बेहद जरूरी पोषक तत्व है जो हमारी हड्डियों और दांतों को मज़बूत बनाए रखने में मददगार है।

कैल्शियम की कमी से बॉडी में होने वाली परेशानियां

  1. कैल्शियम की कमी से बॉडी में थकान और सुस्ती रहती है।
  2. दांत, नाखून और हड्डियां कमजोर हो जाती है।

कैल्शियम की कमी पूरा करने के लिए इन चीजों का करें सेवन

  • सोयाबीन और उससे बनने वाली चीजें
  • ब्रोकोली
  • रागी
  • तिल
  • चना
  • पालक
  • डेयरी प्रोडक्ट्स

कैल्शियम किस तरह फायदेमंद है।

वज़न को कंट्रोल करता है कैल्शियम:

कैल्शियम मेटाबॉलिज्‍म की स्‍पीड बढ़ाने में मदद करता है। कैल्शियम वजन बढ़ने से रोकता है क्योंकि यह फैट जलाता है और कम मात्रा में फैट को स्टोर करता है।

हड्डियों, दांतो को मजबूत करता है कैल्शियम:

कमजोर नाखून कैल्शियम की कमी का संकेत देते हैं। कैल्शियम शरीर के लिए सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों में से एक माना जाता है। यह स्वस्थ दांतों और हड्डियों को मज़बूत बनाने में मदद करता है। कैल्शियम अवशोषण और हड्डियों का विकास 20 साल की उम्र तक अपने चरम पर होता है, और उसके बाद धीरे-धीरे घटता है। कैल्शियम और विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा बढ़ते बच्चों और युवा वयस्कों में बोन मास में वृद्धि करने में मदद करती है।

 

किडनी स्टोन से महफूज रखता है:

कुछ लोगों का मानना है कि कैल्शियम से किडनी में स्टोन हो जाता है लेकिन यह बात मिथ है। शोध से साबित हुआ है कि कैल्शियम का सेवन बॉडी की लाइनिंग को नुकसान पहुंचाने वाले किडनी स्टोन से हिफाजत करता है।

ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है:

कैल्शियम के नेचुरल स्रोत और सप्‍लीमेंट को रेगुलर लेने से ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल किया जा सकता है।

क्रोनिक बीमारी से बचाता है:

कैल्शियम पुरानी बीमारियों के खिलाफ लड़ने में एक बहुत ही गंभीर भूमिका निभाता है। कैल्शियम का सेवन करने से क्रोनिक बीमारियों का खतरा कम हो सकता है।

 

कैल्शियम कमजोर व पतली हड्डियों को मजबूत करने, दिल की कमजोरी, महिलाओं के मासिक धर्म से संबंधित रोगों के उपचार में फायदेमंद होता है। कैल्शियम गर्भवती महिलाओं का ब्लड प्रेशर नियंत्रित रखता है। कैल्शियम की कमी आपकी नसों और मांसपेशियों को प्रभावित करती है। अगर आप कैल्शिय से भरपूर डाइट का सेवन नहीं करते तो आप थकान महसूस करते हैं। बढ़ते बच्चों की बॉडी उनके दांतों के आकार और हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए भी कैल्शियम जरूरी है। आइए जानते हैं कि कैल्शियम बॉडी के लिए क्यों जरूरी है और इसकी कमी से होने वाले नुकसान कौन-कौन से हैं।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना