गर्मी ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड, जानिये- कब होगी दिल्ली- एनसीआर में बारिश

 


नई दिल्ली | पिछले कई दिनों की राहत के बाद दिल्ली-एनसीआर की गर्मी ने एक बार फिर तल्ख तेवर अपना लिए हैं। शुक्रवार सुबह भी लोग टीशर्ट और शर्ट में दिखे। खासकर मॉर्निंग वॉक करने वालों लोगों ने एक्सरसाइड के बाद ठंड को बाय-बाय कहते नजर आए। ठंड के जाने और गर्मी आलम यह है कि गुरुवार को दिन में ही नहीं, सुबह के समय भी गर्मी महसूस हुई और चार मार्च का दिन बीते चार वर्ष में सबसे ज्यादा गर्म रहा। शुक्रवार और शनिवार को भी कमोबेश ऐसा ही हाल रहने के आसार हैं। हालांकि, आने वाले दिनों में पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से दिल्ली- एनसीआर में बारिश की भी संभावना बन रही है।

मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री अधिक 33.9 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 12.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 39 से 93 फीसद रहा। वहीं, दिल्ली का स्पोट्र्स कांप्लेक्स क्षेत्र 34.5 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान के साथ सबसे गर्म रहा।

2016 में चार मार्च को अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा था। इसके बाद इस साल तापमान 33 डिग्री पार हो चुका है। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि मार्च का आल टाइम हाई तापमान 40.6 डिग्री सेल्सियस है, जो 1945 में दर्ज किया गया था।

प्रादेशिक मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव के अनुसार, मार्च में अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है। उन्होंने बताया कि रविवार से सक्रिय होने जा रहे एक पश्चिमी विक्षोभ के असर से दिल्ली-एनसीआर में बादल छाने और बारिश होने की भी संभावना है।

दिल्ली-एनसीआर की हवा हुई बहुत खराब

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की तरफ से जारी एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) के अनुसार, गुरुवार को दिल्ली का एक्यूआइ 278 दर्ज किया गया। वहीं, फरीदाबाद, नोएडा और गाजियाबाद की हवा बहुत खराब श्रेणी में रही।

 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक