Wednesday, March 10, 2021

महिला से संबंध बना खींचे अश्लील फोटो, बनाया वीडियो, फिर वायरल करने की धमकी देकर करने लगा शोषण, केस दर्ज

 


 भीलवाड़ा हलचल। उदयपुर की एक महिला से शारीरिक संबंध स्थापित कर उसके अश्लील फोटो और वीडियो क्लिप बनाकर वायरल करने की धमकी देकर लंबे समय से शारीरिक शोषण करने का मामला सामने आया है। पीडि़ता के डाक से पुलिस अधीक्षक को  रिपोर्ट भेजकर कार्रवाई की गुहार लगाने के बाद पुर थाना पुलिस ने केस दर्ज किया है।   
पुलिस सूत्रों के अनुसार, उदयपुर निवासी एक महिला ने बागौर निवासी दिनेश पुत्र मूलचंद सोनी के खिलाफ पुलिस अधीक्षक को एक रिपोर्ट दी। रिपोर्ट के मुताबिक महिला पूर्व में अपने पति के साथ मुंबई में निवासरत थी। उस समय उसका परिचय आरोपित दिनेश सोनी से हुआ था। वर्ष 2017 के दरमियान दिनेश ने मौका पाकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाये और अपने मोबाइल में उसके अश्लील फोटो और वीडियो क्लिप बना ली थी। थोड़े दिन बाद उसने यह फोटो और वीडियो क्लिप उसे दिखाये और संबंध बनाने से इनकार करने पर फोटो व वीडियो न केवल वायरल करने, बल्कि पति को दिखाकर वैवाहिक जीवन बर्बाद कर देने की भी धमकी दी। 
इसके बाद बदनामी की आशंका से पीडि़ता मानसिक अवसाद में आ गई। दिनेश लगातार पीडि़ता का शोषण करता रहा। मजबूरन पीडि़ता ने प्रकरण दर्ज करवाया, लेकिन उसने माफी मांगते हुये फोटो वीडियो डिलीट कर देने की बात कहकर पीडि़ता से दूरी बना ली। इसके बाद पीडि़ता आरोपित दिनेश के संपर्क में नहीं रही। लेकिन जुलाई 2020 के आस-पास दिनेश, पीडि़ता को फोन और वाट्सएप्प करने लगा। साथ ही पीडि़ता से उसके अश्लील फोटो और वीडियो अपने मोबाइल में मौजूद होने की बात आरोपित ने कही। पीडि़ता ने उसेे कार्रवाई करने की चेतावनी दी। इस पर दिनेश ने पीडि़ता को बैठकर बात करने के बहाने उपनगर पुर बुलाया। 
पीडि़ता 15 अगस्त 20 को दिनेश के कहे अनुसार सुबह 11 बजे पुर बस स्टैंड पर आ गई। जहां दिनेश मोटरसाइकिल लेकर मौजूद था। वह बैठकर बात करने की कहकर पीडि़ता को बाइक पर बैठा कर पुर से थोड़ा आगे निर्जन स्थान पर ले गया, जहां आरोपित ने उसके साथ दुष्कर्म किया। शाम करीब चार बजे उसे छोड़ दिया और पीडि़ता से कहा कि उसके फोटो व वीडियो किसी खास आदमी के पास है, वो कौन है यह बाद में बतायेगा। इस घटना से पीडि़ता सहम गई। उसे डर लगने लगा कि दिनेश उसके यह फोटो और वीडियो सार्वजनिक नहीं कर दे। इसके बाद पीडि़ता ने एक वाट्सएप्प पर उसके न्यूड फोटो अपलोड किये देखे। 
पीडि़ता ने रिपोर्ट में यह भी बताया कि वह ईतला लेकर थाने गई तो वहां से उसे बाद में आने की बात कहकर रुखसत कर दिया। पीडि़ता द्वारा इस घटना को लेकर डाक से यह रिपोर्ट पुलिस अधीक्षक को भिजवाई थी, जो 11 जनवरी को पुलिस अधीक्षक कार्यालय से पुर थाने को प्राप्त हुई। इसके बाद पीडि़ता के अधिवक्ता ने भी पीडि़ता की रिपोर्ट 16 जनवरी 21 को पेश की, जिसमें पीडि़ता के पारिवारिक कारणों से उपस्थित होने में असमर्थ होना बताया गया। इस रिपोर्ट पर सात मार्च को पुर थाना पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज किया। मामले की जांच थाना प्रभारी कर रहे हैं। 

वैक्सीन की कमी, ऑक्सीजन की नहीं: रघु शर्मा

बोले- जनता के गले उतरने वाले फैसलों से कांग्रेस जीतेगी तीनों विधानसभा सीटें भीलवाड़ा (संपत माली)।  चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा है क...