सिंधु महिला समिति ने मनाया महिला दिवस एवं फागोत्सव


भीलवाड़ा (पंकज हेमराजानी) | सिंधु महिला समिति के तत्वावधान में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में सिंधी समाज की महिला पार्षदों इंदु तोलानी, वर्षा दरियानी व सोनम सबनानी को सम्मानित किया गया| कार्यक्रम कोशल्या राजानी की अध्यक्षता एवं पूर्व सभापति मंजू पोखरना के मुख्य आतिथ्य में आयोजित हुआ| बतौर अतिथि अर्चना सोनी, निशा सोनी, लीला राठी व नीलू वागरानी आदि उपस्थित थे| अतिथियों ने आराध्य देव झूलेलाल के चित्र के समक्ष पुष्प अर्पित कर एवं दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया| सर्वप्रथम गणेश वन्दना की गई| कविता लोहानी ने 'स्त्री से ही सृष्टि, जीवन की भोर है- स्त्री के हाथों में ही जीवन की डोर है' कविता प्रस्तुत की| फागोत्सव के दौरान रिया खैराजानी, वर्षा मोटवानी, हेमा केसवानी, दिव्या त्रिलोकानी ने हास्य नाटिका की प्रस्तुति दी| महिला सशक्तिकरण पर मंजू पोखरना ने उद्बोधन देते हुए कहा कि आज की नारी स्वतंत्र, सशक्त एवं आत्मनिर्भर है| महिलाओं पर कई जिम्मेदारियां भी हैं जिन्हें वे बखूबी निभा रही हैं| उन्होंने कहा कि नारी सशक्तिकरण को हर क्षेत्र में बढ़ावा मिलना चाहिये| महिलाओं व बेटियों को शिक्षा के प्रति जागृत करें जिससे कि वे रोजगार के क्षेत्र में पूरी तरह से आत्मनिर्भर हो सकें| सभी सदस्याओं ने हॉऊजी सहित विभिन्न रोचक गेम्स खेले तथा एक-दूसरे को गुलाल लगा कर फागोत्सव मनाया| होली के गीतों पर सभी महिलाओं ने नृत्य किया| चित्रा बदलानी ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया| संचालन पूजा छाबड़ा ने किया| कार्यक्रम में सरला नथरानी, इंद्रा गांधी, नैना नथरानी, सुनीता हेमराजानी, कोमल मोटवानी, भावना रूपचंदानी, इंदु कोडवानी, दीपिका रहेजा, मीरा जेठानी, चंद्रा दरियानी, साक्षी बत्रा, नीता नथरानी, मधु रहेजा, सुषमा हेमनानी, दीपा कोडवानी, जया केसवानी, मधु फगनानी, मनीषा बत्रा, कविता त्रिलोकानी, कंचन रहेजा सहित अनेकों सदस्याएं सम्मिलित हुईं|

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना