मुनि कुलदीप ने किया बसंत विहार में चातुर्मासिक प्रवेश

भीलवाड़ा (हलचल)। आचार्य महाश्रमण की आराधना करते हुए मुनि कुलदीप कुमार ने गुरुवार को निवर्तमान अध्यक्ष निर्मल गोखरू के निवास  से बसंत विहार स्थित झाबक निवास में चातुर्मासिक प्रवेश किया।
मुनि कुलदीप कुमार ने कहा कि 22 साल बाद उन्हें गुरु सन्निधि में रहने का शुभ अवसर मिलेगा। भीलवाड़ा समाज में ऊर्जा का अक्षय भंडार है, जरूरत है इस शक्ति का संचयन करके इसका सही नियोजन करने की। धर्म संघ और आचार्य की अवेहलना जो कोई भी करेगा उसका पतन निश्चित है।
गलती होना स्वाभाविक है ,पर सुधार करना भी अपेक्षित हो।
मुनि कुलदीप ने होली झाबक निवास में मनाने की घोषणा की। मुनि मुकुल कुमार ने कहा कि 2021 आचार्य महाश्रमण के चातुर्मास में सभी पूरे जोश उत्साह उमंग नई शक्ति के साथ हर योजनाओं को क्रियान्विति दे।
चातुर्मास प्रवास व्यवस्था समिति अध्यक्ष प्रकाश सुतरिया ने सभी से मिलकर काम करने का आह्वान किया। नवरतनमल झाबक ने आपसी वैमनस्य मिटाकर प्रेम व वात्सल्य भावना की बात कही। तेरापंथ सभा संस्था अध्यक्ष भैरूलाल चोरडिय़ा, महिला मंडल अध्यक्षा विमला रांका, टीपीएफ  अध्यक्ष राकेश सुतरिया, तेयुप अध्यक्ष सुनील बनवट, अणुव्रत समिति अध्यक्षा  आनंद बाला टोडरवाल ने मुनि का स्वागत किया। गायक दीपांशु झाबक ने गीतिका द्वारा मंगलाचरण किया। महिला मंडल ने स्वागत भक्ति गीत गाए।  भिक्षु भजन मंडली ने भक्ति के स्वरों का संगान किया। बालक दर्शन सिरोहिया ने भी गीतिका प्रस्तुत की।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना