आंखों में चला जाए होली का रंग, तो गलती से भी न करें ये काम!


इंतज़ार ख़त्म और आ गया खुशियों और रंगों का त्योहार होली। भारत में फाल्गुन महीने के मनाया जाने वाला ये त्योहार, सभी की ज़िंदगी में रंग भर देता है। खासतौर पर बच्चों में इस दिन बेसब्री से इंतज़ार होता है। घरों में इस त्योहार की तैयारी कई दिन पहले शुरू हो जाती है। पिचकारी और रंगों के अलावा घरों में गुजिया, नमकीन, ठंडाई की तरह के कई स्वादिष्ट व्यंजन भी बनाए जाते हैं। 

अहंकार पर आस्था और विश्वास की जीत के कारण यह त्योहार मनाया जाता है। कहा जाता है कि इस दिन सभी लोगों को सारे गिले-शिकवे मिटाकर दोस्ती कर एक नई शुरुआत करनी चाहिए, जो इस त्योहार का उद्देश्य भी है।

होली के दिन सभी लोग जमकर रंग और गुलाल से खेलते हैं। ज़ाहिर है ऐसे में आप भी इसे खेलने के लिए काफी उत्साहित होंगे। भाई-बहन, यार-दोस्त और आस-पड़ोस के लोग एक दूसरे को खूब रंग लगाते हैं। इस खेल में कई बार रंग आंखों में भी चला जाता है, जिससे आंखों को बहुत नुकसान भी पहुंच सकता है।

आंखों के लिए ख़तनाक है रंग

रंगों को तैयार करने के लिए तरह-तरह के केमिकल और एसिड का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में जब यह रंग आंखों में जाता है, तो तेज़ जलन मचती है और अगर ऐसे में आपने आंखों को मसल दिया तो ये आंखों की पुतली को भी गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा सकता है। होली की मौज-मस्ती के दौरान आंखों को ख़तरनाक रंगों से बचाए रखना बहुत ज़रूरी है। 

आज हम बता रहे हैं कि होली के दिन अगर आपकी आंखों में भी अनजाने में रंग चला जाता है, तो अपनी आंखों को नुकसान से बचाने के लिए आप क्या कर सकते हैं।

1. होली के दिन रंग से खेलने से पहले अपनी आंखों के आसपास तेल या फिर वैस्लीन लगा लें। इससे आपकी आंखों के आसपास की त्वचा में नम रहेगी और साथ ही रंग आंखों के अंदर जाने के बजाय पलकों पर ही चिपक जाएगा।

2. ध्यान रहे कि रंग अगर आंखों में चला जाए, तो आंखों को रगड़कर साफ न करें। इससे आंखों को काफी नुकसान पहुंच सकता है, साथ ही जलन भी पैदा हो सकती है। इसलिए अगर आंखों में रंग चला जाए तो इसे हाथों से रगड़े नहीं बल्कि किसी सूती कपड़े से हल्के हाथों से साफ करें। 

3. होली खलने से पहले आप आंखों के लिए पहले से आइड्रोप खरीद लें। मार्केट में ऐसे कई आई ड्रॉप उपलब्ध हैं, जिनकी एक बूंद से आपकी आंखों में गया रंग तुरंत ही बाहर निकल सकता है। किसी डॉक्टर की सलाह से आप ये आईड्रॉप ले सकते हैं। 

4. होली में रंग खेलने के दौरान रंग आंखों में चला जाए तो इसे पानी से तुरंत न धोएं। गुलाल चले जाने के तुरंत बाद आंखों को धोने से रोटिना में रंग फैल सकता है, जिससे आंखों की रोशनी जा सकती है।

 

5. होली खेलते वक्त आप ग्लेयर्स पहन सकते हैं, इससे आपकी आंखें रंग और धूप दोनों से बचेंगी। 

6. अगर आप आमतौर पर कॉन्टेक्ट लेंसेज़ का उपयोग करते हैं, तो होली के दिन इन्हें पहनने की ग़लती न करें। लेंस में अगर किसी वजह से रंग चला गया तो आपकी आंखों को ज़्यादा नुकसान पहंच सकता है। बेहतर यही है कि चश्मा पहनकर होली खेलें।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना