पांच सुपरफूड जो दिल की सेहत का हमेशा रखेंगे ख्याल

लाइफस्टाइल डेस्क। भारत में दिल से संबंधित बीमारियों का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। चौंकाने वाली बात यह है कि बुजुर्गों से ज्यादा दिल की बीमारियां युवा होने लगी हैं। युवा आबादी अल्कोहल और धूम्रपान की लत में अपनी जीवन शैली को खराब कर रही है, जिससे न केवल डायबटीज और हाई ब्लडप्रेशर के मामले बढ़ रहे है, बल्कि हृदय की कार्यप्रणाली को भी प्रभावित कर रहे हैं। असंतुलित खान-पान का दिल पर बेहद असर पड़ रहा है। जिन लोगों का वज़न ज्यादा है उनके दिल पर अधिक जोर पड़ता है जिसके कारण हार्ड अटैक जैसी परेशानी हो सकती है। इन तमाम परेशानियों से बचने का एक मात्र उपाय है कि पहले से ही सचेत रहें। यहां हम आपको ऐसे पांच सुपर फुड के बारे में बता रहे हैं जो आपको हमेशा के लिए दिल की बीमारियों से दूर रखेगा।

सेलमोन:

दुनिया में जितनी भी मछलियां हैं, उनमें सेलमोन मछली ओमेगा-3 फैटी एसिड का सबसे बड़ा स्रोत है। इससे अधिक किसी भी मछलियों में ओमेगा 3 फैटी एसिड नहीं पाया जाता है। यह मछली दिल की बीमारियों से दूर रखने के लिए सुपर फूड का काम करती है। इसके बाद टूना और सार्डिन मछली भी ओमेगा 3 फैटी एसिड का अच्छा स्रोत है। ओमेगा3 फैटी एसिड स्ट्रोक और हार्ट फेल की आशंका को बहुत कम करता है। यह ब्लड प्रेशर को सहज बनाता है और हर्ट बीट को रेग्युलर करने में मदद करता है। सप्ताह में सेलमोन मछली का एक दिन सेवन करने से दिल की बीमारियों की आशंका बहुत कम हो जाती है।

बैरीज:

बैरी का सेवन दिल की बीमारियों के लिए बहुत कारगर साबित होता है। अगर इसका सेवन नियमित किया जाए तो इस तरह की बीमारियों से पहले से बचा जा सकता है। चाहे वह रैस्पबैरीज हो, स्ट्रॉबेरीज हो, ब्लैकबैरीज, ब्ल्यूबैरीज या क्रेनबैरीज हो सभी एंटीऑक्सीडेंट का भरपूर साधन है। यह खून को जमने नहीं देता जिससे हार्ट सुचारु रूप से काम करने में सहायक होता है। ताजा बैरीज में ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट होता है और यह सक्रिय भी ज्यादा रहता। इसलिए ताजा बैरीज का इस्तेमाल करना चाहिए। हालांकि फ्रोजन बैरीज भी सही होती है।

 

हरी पत्तेदार सब्जियां:

हर तरह की हरी पत्तीदार सब्जियां और साग दिल को दुरुस्त रखने के लिए बेहद असरदार है। पालक का साग सबसे अधिक कारगर है। इसके अलावा लेट्यूस जिसे सलाद में मिलाकर खाया जाता है, ये भी एंटीऑक्सीडेंट का भरपूर स्रोत है। गोभी, पत्तागोभी ब्रसेल्स स्प्राउट्स जैसी हरी पत्तीदार सब्जियों में खूब एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। इन सब्जियों में फाइबर भी खूब पाया जाता है जिसके कारण शरीर में बैड कॉलेस्ट्रोल नहीं बनने देता। ऐसी सब्जियों में कैलोरी बहुत कम पाई जाती, इसलिए इसका ज्यादा सेवन भी नुकसानदेह नहीं है।

स्वीट पोटैटो:

दिल की बीमारियों से बचने के लिए स्वीट पोटैटो यानी शकरकंद पोषक तत्वों से भरपूर सुपरफूड है। एक कप स्वीट पोटैटो में 180 कैलोरी ऊर्जा, 4 ग्राम प्रोटीन, 6.6 ग्राम फाइबर, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी 6, विटामिन सी, नियासिन, कॉपर, पोटैशियम, मैगनीज इत्यादि एक साथ मौजूद रहते हैं। इसके अलावा इसमें केरेटोनॉएड भी पाया जाता है जो दिल की बीमारियों को शरीर से दूर रखता है। इससे शरीर में खून का संचरण सुचारू रूप से चलता है जिससे हार्ट की सेहत दुरुस्त रहती है।

नट्स:

नट्स में कई तरह के बादाम आते हैं। अखरोट, बादाम, हेजलनट्स, पीकेंस, पीनट्स आदि हेल्दी डाइट का महत्वपूर्ण स्रोत हैं। इनमें अनसैचुरेटेड फैट, फाइबर और दिल को मजबूत करने वाले कई पोषक तत्व मौजूद रहते हैं। यह बैड कोलेस्ट्रोल को कम करते है, खून की नलियों से लाइनिंग को हटाते है और खून में थक्का नहीं जमने देते। इसके अलावा खून में किसी भी प्रकार की सूजन को खत्म कर देते हैं। यही कारण बादाम दिल की बीमारियों के लिए महत्वपूर्ण सुपर फूड है।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक