भारत में 160 दिनों में सबसे कम 25 हजार कोरोना के नए केस आए सामने, पिछले घंटों करीब आठ लाख लोगों को लगी वैक्सीन

 

नई दिल्ली। भारत में कोरोना के नए मामलों में गिरावट दर्ज की गई है। बताया गया कि बीते 160 दिनों में सबसे कम कोरोना केस देश में सामने आए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के 25,072 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 44,157 लोगों ने रिकवरी की। वहीं, पिछले घंटों 389 लोगों की कोरोना से मौत हो गई। मंत्रालय के अनुसार, रिकवरी रेट अब बढ़कर 97.63% हो गया है।

देश में अब तक कोरोना के 3 करोड़ 24 लाख 49 हजार 306 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 3 करोड़ 16 लाख 80 हजार 626 लोग रिकवरी कर चुके हैं। वहीं, भारत में फिलहाल 3 लाख 33 हजार 924 सक्रिय मामले हैं और देश में 4 लाख 34 हजार 756 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। बता दें कि 24 घंटे की अवधि में सक्रिय COVID-19 मामलों की कुल संख्या में 19,474 मामलों की कमी दर्ज की गई है।

दैनिक सकारात्मकता दर 1.94 फीसद दर्ज की गई है। पिछले 28 दिनों से यह 3 फीसदी से भी कम दर्ज हो रही है। साप्ताहिक सकारात्मकता दर 1.91 फीसद दर्ज की गई। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 59 दिनों से यह 3 फीसदी से नीचे ही बनी हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस वैक्सीन की 7,95,543 डोज लगाई गई है, जिसके बाद देश में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 58 करोड़ 25 लाख 49 हजार 595 हो गया है।

इसके अलावा, रविवार को 12,95,160 टेस्ट किए गए, जिससे देश में COVID-19 का पता लगाने के लिए अब तक किए गए टेस्ट 50,75,51,399 तक पहुंच गए हैं।

भारत की COVID-19 टैली 7 अगस्त, 2020 को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, 5 सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी। 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार हो गया था। भारत ने 4 मई को दो करोड़ और 23 जून को तीन करोड़ का खतरनाक कोरोना का आंकड़ा पार किया।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक