2 सांप को बहन के सामने ले गया भाई, कहा-इन्हें राखी बांधो..उसने वैसा ही किया, अगले पल हुआ मौत का खेल

 


छपरा (बिहार). 22 अगस्त यानि रविवार को पूरे देश में भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन का त्यौहार में धूमधाम से मनाया गया। जहां बहने अपने भाइयों की कलाई पर रेशम का धागा बांध उनकी रक्षा की दुआ मांगी। इसी बीच बिहार के छपरा जिले से एक मार्मिक खबर सामने आई है। जहां एक भाई की सांप के डसने से मौत हो गई।  हैरानी की बात यह है कि मृतक अपनी बहनों से सांपों के जोड़े को राखी बंधवा रहा था। 
पढ़िए कैसे लोग मौत पर नहीं कर पा रहे यकीन...
 

दरअसल, यह दुखद घटना छपरा जिले के मांझी सीतलपुर गांव में रविवार दोपहर घटी। जहां जाने-माना स्नेक कैचर मनमोहन उर्फ भुवर (25) दो जहरीले सांपों को पकड़ कर अपनी बहन से राखी बंधवा रहा था, इसी दौरान एक सांप ने उसे काट लिया और कुछ देर बाद दम तोड़ दिया।

बता दें कि मनमोहन छपरा जिले ही नहीं, दूसरे जिले में सांप को पकड़ने में फेमस था। उन्होंने सर्पदंश से पीड़ित सैकड़ों लोगों की जान बचाई है। वह सांपों को पकड़कर उनके जख्म का इलाज करता था। घटना के बाद परिजनों और इलाके में कोहराम मच गया है, कोई इस पर यकीन नहीं कर पा रहा है।

 

मनमोहन को दूर-दूर से लोग सांपों को पकड़ने और सांप के काटने के बाद बुलाते थे। इलाके के लोग मनमोहन को सांपों का दोस्त कहकर पुकारते थे। लेकिन अब वही लोग कह रहे हैं कि ये सांप तो मनमोहन के दोस्त थे, आखिर कैसे उसे काट लिया। सांपों को पकड़ने और लोगों के शरीर से जहर निकालने के दौरान मनमोहन कई बार नागों ने डसा था, लेकिन वह सही हो जाता था। क्योंकि उसके शरीर में जहर ज्यादा असर नहीं करता था।

25 साल के मनमोहन की अभी शादी नहीं हुई थी, लेकिन परिवार के लोग लड़की देख रहे थे। इलाके के लोग उसे पर्यावरण प्रेमी कहते थे, क्योंकि वह सांप को पकड़ने के बाद जंगल में छोड़ देता था। अगर कोई उनको मारता तो उसे समझाते थे। 
 

 

25 साल के मनमोहन की अभी शादी नहीं हुई थी, लेकिन परिवार के लोग लड़की देख रहे थे। इलाके के लोग उसे पर्यावरण प्रेमी कहते थे, क्योंकि वह सांप को पकड़ने के बाद जंगल में छोड़ देता था। अगर कोई उनको मारता तो उसे समझाते थे

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक