दिनदहाड़े निकाल रहे है बनास नदी से बजरी, खनन जारी

 

 गेंदलिया हलचल।। वैसे तो बजरीं दोहन   पर रोक है लेकिन असर कहि नजर नही आ रहा है, क्षेत्र के अधिकांश गावों में अवैध बजरीं दोहन कर  दिन दहाड़े सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रही है  दिन हो या रात बनास नदी में धड़ले से बखोफ  बजरीं दोहन जारी है, प्रभावि  कार्रवाई नही होने से बजरीं माफिया चाँदी कूट रहे है,गेंदलिया क्षेत्र में तीन किलोमीटर की परिधि में   दो सौ से अधिक टेक्टरों में बजरीं भरी जा रही है, गेंदलिया क्षेत्र  बजरी माफियो का गढ़ बना हुवा है  ,पुलिस व प्रशासन पर भारी पड़ रहे है बजरीं माफिया ।गेंदलिया गांव में पुलिस प्रशासन, खनिज विभाग की अनदेखी के चलते गेंदलिया क्षेत्र में दिनदहाडे  रात दिन  बजरी का अवैध कारोबार  हो रहा है  ।जिससे गेंदलिया ग्राम में बेलगाम हो गया बजरी दोहन ,क्षेत्र गावो में  बेलगाम बजरीं माफिया रेण, गेंदलिया,भाकलिया ,सोलंकियों का खेडा गांव में बनास नदी में  दोसो ट्रेक्टरों में बजरी भरी जा रही है  परन्तु प्रसासन अनजान बना हुवा है प्रशासन कार्यवाही नही कर पा रहा है बडलियास थाने से महज आठ किलोमीटर दूर है  गेंदलिया गांव की  सड़कों व गलियों में तेज रफ्तार में गुजर रहे बजरी  के वाहन  है जिससे  सड़क किनारे बसे निवासरत ग्रामीणों की जान सांसत में है व सड़क पर  ग्रामीण हादसे के भय से बच्चो को भेजने में कतराने लगे है ट्रेक्टरों की रफ्तार से कभी हादसे से इनकार नही किया जा सकता है  ट्रेक्टरों को नाबालिक   चालक दौड़ा रहे है 

 सुठेपा,आमा,रेणवास ,मनकडी ,मुरलिया ,चोधरियास सहित गांवमें  होकर  से बजरी से भरे सेकड़ो ट्रेक्टर चार किलोमीटर  दूर चौमू घाटा, घोड़ी घाटा व एक किलोमीटर दूर फलोदी गांव  से  चितोड़गढ़ जिले में प्रवेश कर जाते है वाहन  कई बजरी के वाहन  लिरडी गांव में  अवैध स्टोको पर खाली हो जाते है ।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !