Monday, March 1, 2021

निर्दयी मां ने जन्म देकर नवजात बेटे को मरने के लिए छोड़ा झाडिय़ों में


  भीलवाड़ा हलचल। जाको राखे सांईया मार सके न कोई । इस पंक्ति का ताजा उदाहरण बनेड़ा थाना इलाके में सोमवार को देखने मिला। जहां एक महिला ने अपने नवजात बच्चे को जन्म देने के बाद उसे मरने के लिए झाडिय़ों में छोड़ दिया । इस बालक को बनेड़ा में प्राथमिक उपचार के बाद जिला चिकित्सालय के लिए रैफर कर दिया गया। मामला, भीलवाड़ा जिले के बनेड़ा थाना क्षेत्र का है। जहां सोमवार दोपहर सरदार नगर से बामणिया जाने वाले मार्ग पर स्थित न्यू कमल ईंट भट्टे के पास खजूर के पेड़ की ओट में एक दिन का नवजात बालक बिलखता मिला। लोगों ने बच्चे की आवाज सुनकर पास में जाकर देखा तो वहां नवजात शिशू (लड़का) पड़ा दिखाई दिया।  बच्चे को जन्म लिए हुए कुछ ही समय हुआ होगा । ऐसी संभावना जताई जा रही है। इस बच्चे को उसी पैदाईश छिपाने के इरादे से निर्दयी मां ने लावारिस हालत में मरने के लिए छोड़ दिया । मौके पर आसपास के लोगों को भीड़  एकत्रित हो गई। गनीमत रही कि किसी जीव जंतु की नजर बच्चे पर नहीं पड़ी। उधर, इसकी सूचना मिलने तही बनेड़ा 108 एंबुलेंस पायलेट प्रकाशचंद्र कुमावत व कंपाउंडर पंकज कुमार मेघवाल मौके पर पहुंचे और बच्चे को बनेड़ा अस्पताल पहुंचाया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद बालक को भीलवाड़ा जिला चिकित्सालय के लिए रैफर कर दिया गया। 

आरणी में बाबा साहेब को चढ़ाए श्रद्धा के फूल

राशमी (कैलाश चन्द्र सेरसिया)।  आरणी में बुधवार को डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती के उपलक्ष्य में अंबेडकर बस स्टैंड पर कोविड गाइडलाइन की पालना क...