यूआईटी एक्‍सईएन से छीना 30 लाख तक की फाइलों के निस्तारण का अधिकार

 


भीलवाड़ा । नगर विकास न्यास के नए सचिव अजय कुमार आर्य ने आते अधिशासी अभियंताओं से 30 लाख रुपए के विकास कार्यों की फाइलें स्वयं के स्तर पर निस्तारण करने का अधिकार छीन लिया है। यह अधिकार उन्हें पूर्व कार्यवाहक सचिव महिपाल सिंह ने दिया था। वर्तमान सचिव अजय कुमार आर्य ने 16 अगस्त को आदेश निकाल कर पूर्व सचिव महिपाल सिंह द्वारा जारी आदेश क्रमांक/तकनीकी/2021-22/1196-98 दिनांक 24 जून 2021 को तुरंत प्रभाव से निरस्त कर दिया। उन्होंने अपने आदेश में सभी तकनीकी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सभी विकास कार्यों से संबंधित फाइलें अधीक्षण अभियंता के जरिये ही भेजना सुनिश्चित करें। यानी अब सभी निर्माण की फाइलें एसई संजय माथुर के जरिये
अग्रिम कार्रवाई के लिए सेक्रेट्री के पास जाएगी। यहां से आवश्यक होने पर प्रशासक एवं जिला कलेक्‍टर तक जाएगी। पूर्व सचिव महिपाल सिंह ने 24 जून के आदेश में सभी एक्‍सईएन को शिड्यूल ऑफ पावर (एसओपी) के अनुरूप विकास कार्यों के लिए संबंधित स्तर के तकनीकी अधिकारियों को फाइलें उन्हें प्रदा शक्तियों के अनुसार अपने स्तर पर निस्तारित कर भुगतान के लिए उन तक भेजने का अधिकार दिया था। यानी तब ये फाइलें एसई के पास नहीं जाती थी। अब ये आदेश निरस्त हो जाने से छोटे-छोटे भुगतान की फाइल भी एसई के पास जाएगी। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना