भारतीय महिला हॉकी टीम को 4-3 से मिली हार, ग्रेट ब्रिटेन ने जीता कांस्य

 

दिल्ली ।गुरुवार को जिस तरह भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने कांस्य पदक जीतकर इतिहास रचा था। उसी तरह आज यानी शुक्रवार 6 अगस्त को भारतीय महिला हॉकी टीम के पास भी ब्रॉन्ज मेडल जीतने का मौका था, जिसे महिला टीम भुना नहीं पाई। कांस्य पदक मैच में भारत को 3-4 से हार मिली। 

भारत अब तक टोक्यो में जारी ओलिंपिक में पांच पदक जीत चुका है, जिसमें से दो पदक सिल्वर मेडल के रूप में आए हैं, जबकि तीन पदक कांस्य के रूप में आए हैं। चार व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धाओं में भारत ने पदक जीते हैं, जबकि एक पदक टीम के रूप में आया है, जिसे हॉकी पुरुष टीम ने जीता है।

महिला हॉकी टीम हारी

रियो ओलिंपिक की गोल्ड मेडल विजेता ग्रेट ब्रिटेन के खिलाफ भारतीय महिला हॉकी टीम ने कांस्य पदक के लिए लड़ाई लड़ी, लेकिन भारत को हार झेलनी पड़ी। ग्रेट ब्रिटेन ने 4-3 से जीत दर्ज कर टोक्यो ओलिंपिक में कांस्य पदक जीतने में सफलता हासिल की। 

भारतीय महिला हॉकी टीम ने पहले क्वार्टर में अच्छा खेल दिखाया। हालांकि, दोनों ही टीमें पहले हाफ के पहले क्वार्टर में एक भी गोल नहीं कर पाईं। कुछ मौके दोनों टीमों को गोल के लिए मिले थे, लेकिन कोई भी गेंद को नेट में नहीं पहुंचा सका। इस समय दूसरे क्वार्टर का खेल जारी है। 

भारतीय महिला हॉकी टीम को दूसरे क्वार्टर के पहले ही मिनट में गोल खाना पड़ा। थ्रीडी स्किल्स के जरिए ग्रेट ब्रिटेन की ओर से एलीना सियान ने गोल किया और कांस्य पदक के इस मैच में खाता खोला। दूसरा गोल करीब दसवें मिनट में इंग्लैंड की टीम ने किया, जब सारा रॉबर्ट्सन ने गोल किया और बढ़त को 2-0 में तब्दील किया, लेकिन भारतीय महिला टीम ने भी वापसी करते हुए एक गोल दागा। 

दूसरे क्वार्टर में गुरजीत कौर ने गोल दागा और बढ़त को कम किया। इतना ही नहीं, जब भारत को पेनाल्टी कार्नर मिला तो गुरजीत ने फिर से 11वें मिनट में गोल कर भारत को बराबरी पर ला खड़ा किया। दूसरे ही क्वार्टर के आखिरी के कुछ मिनटों में भारत की तरफ से एक और गोल दागा गया। वंदना कटारिया ने भारत के लिए तीसरा गोल किया। हाफ टाइम तक भारत 3-2 से आगे है। 

मैच के तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में ग्रेट ब्रिटेन ने तीसरा गोल दागा और मैच फिर से बराबरी पर आ खड़ा हुआ। इंग्लैंड के लिए कप्तान वेब हॉली ने गोल किया। इस तरह तीसरे क्वार्टर में ग्रेट ब्रिटेन ने 3-3 की बराबरी पर मुकाबला छोड़ा। मैच का चौथा और आखिरी क्वार्टर खास और रोमांचक होने वाला है, क्योंकि जो इस क्वार्टर में बढ़त बनाएगा। उसे जीत मिल जाएगी। 

मैच के चौथे और निर्णायक क्वार्टर में ग्रेट ब्रिटेन की ओर से ग्रेस बैल्सन ने पेनाल्टी कार्नर के जरिए गोल दागा। इस तरह ग्रेट ब्रिटेन ने 4-3 की बढ़त हासिल की। ये बढ़त अंत तक बनी रही और भारत के पास कुछ मौके जरूर बराबरी करने के लिए आए, लेकिन टीम 3-4 से पिछड़ गई और कांस्य पदक भारत के हाथ से फिसल गया। 

सीमा को मिली हार

महिला 50 किलोग्राम फ्रीस्टाइल के प्री क्वार्टर फाइनल में पहलवान सीमा बिस्ला ट्यूनीशिया की सर्रा हमदी से 1-3 से हार गईं।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक