राजस्थान में 80 लाख लोगों को वैक्सीनेशन की दूसरी डोज का इंतजार

 


जयपुर। कोरोना महामारी की तीसरी लहर की आशंक जताई जा रही है, लेकिन राजस्थान में कोरोना वैक्सीन की किल्लत के कारण 25 लाख से ज्यादा लोगों को दूसरी डोज नहीं लग सकी है। सरकार इसका कारण वैक्सीन का कोटा कम होना बता रही है। चिकित्सा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, अगस्त में 80 लाख लोगों को दूसरी डोज लगाई जानी है। केंद्र सरकार ने अगस्त के लिए 55 लाख वैक्सीन का कोटा ही आवंटित किया है। ऐसे में वैक्सीन की कमी महसूस हो रही है। राज्य सरकार ने इस संबंध में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखा है। पत्र में 80 लाख से ज्यादा वैक्सीन की डोज इस माह में उपलब्ध कराने की मांग की गई है।

चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा का कहना है कि पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन मिले तो दूसरी डोज लगाई जा सकेगी। पहली डोज लगाने के लिए भी लोगों की भीड़ स्वास्थ्य केंद्रों पर पहुंच रही है, लेकिन वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने के कारण मुश्किल हो रही है। राज्य में 18 साल या इससे अधिक उम्र के पांच करोड़ 14 लाख 95 हजार 402 लोगों को टीका लगाना है। इनमें से अब तक 81 लाख 47 हजार 824 लोगों का ही वैक्सीनेशन पूरा हुआ है। यह लक्षित आबादी का 16 फीसदी है। वहीं, दो करोड़ 78 लाख 522 लोगों को पहली डोज लगी है। वैक्सीनेशन के मामले में राजस्थान देश में चौथे नंबर पर है। सबसे ज्यादा वैक्सीनेशन उत्तर प्रदेश में पांच करोड़ 32 लाख 98 हजार लोगों को डोज लगाई जा चुकी है। दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र है, जहां अब तक चार करोड़ 63 लाख 80 हजार डोज लगी है। तीसरे नंबर पर गुजरात में तीन करोड़ 56 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है। डॉ. शर्मा का कहना है कि निजी अस्पतालों को जो 25 फीसद वैक्सीनेशन का कोटा आवंटित किया गया है, वह राज्य सरकारों के माध्यम से किया जाना चाहिए। 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक