घोड़े की एंटीबॉडी से बनाई जा रही कोरोना की दवा, कंपनी का दावा- 90 घंटों में खत्म होगा संक्रमण

 


मुंबई। देश में कोरोना के वैक्सीन आ गए हैं। कोवीशिल्ड और कोवैक्सीन दोनों कोरोना के प्रभाव को रोकने में प्रभावी है। इसके अलावा देश में कोरोना की अलग-अलग दवाई को लेकर भी परीक्षण चल रहा है। इस बीच एक महाराष्ट्र की एक कंपनी भी कोरोना के खिलाफ प्रभावी दावा बनाने का काम कर रही है।कोल्हापुर की बायोसाइंसेज कंपनी ने दावा किया है कि घोड़ों की एंटीबॉडी से बनाई जा रही दवा 90 घंटों में ही कोरोना संक्रमण को खत्म कर देगा। हालांकि अभी सभी परीक्षणों में सफल होना बाकी है। वहीं यह दवा कोरोना के हल्के और मध्यम लक्षणों वाले मरीजों के इलाज में यह दवा अहम भूमिका निभाएगी।कंपनी के अधिकारियों ने मीडिया को बताया है कि यह 90 घंटे में मरीज को स्वस्थ कर सकता है। कंपनी के मुताबिक अभी दवा का ह्यूमन ट्रायल का पहला चरण चल रहा है। वहीं इस ट्रायल का परिणाम इस महीने के अंत तक आ सकते हैं।

यह भी जानें

आईसेरा बॉयोलॉजिकल कंपनी ने अब तक  सांप, कुत्ते के काटने और डिप्थीरिया के इलाज में कारगर दवाएं बनाती है। वहीं इस बार घोड़े के एंटीबॉडी से कोरोना की दवा बना रही है। वहीं यह दवा अगर सभी मानकों पर सही साबित हुई, तो यह भारत में कोरोना के खिलाफ जारी जंग में काफी फायदेमंद साबित हो सकती है।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !