पातलियास में नहीं बनी नालि‍यां तो मार्ग अवरुद्ध कर करेंगे धरना प्रदर्शन

 


मंगरोप (मुकेश खटीक) आजादी के 75 वर्षो बाद भी किसी गांव को अपने मौलिक अधिकारों के लिए संघर्ष करना पड़े तो ऐसा सुनकर बड़ा अजीब लगता है और शर्मनाक भी लेकिन ऐसा ही नजारा सुवाणा ब्लॉक में पीपली ग्राम पंचायत से पृथक होकर बनी नई ग्राम पंचायत पातलियास के बैरवा व जाट मोहल्ले में देखने को मिलेगा जहाँ अबतक एक भी बार नालियों का निर्माण नही हुआ है गांव के कई अन्य मोहल्लों में भी नालियां तो है लेकिन टूटी हुई है जिससे पंचायत प्रशासन को लेकर ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।दूदाराम जाट ने हलचल को बताया कि नालियों की समस्या को लेकर पूर्व में भी कई बार ग्राम पंचायत पीपली में हर नये निर्वाचित सरपंच को अवगत करवाया था लेकिन गांव की इस प्रमुख समस्या को हरबार पूर्व सरपंचो ने अनदेखा किया है।मोहल्ले वासियो को पीपली से अलग नई पंचायत मिली तो उनको नव निर्वाचित सरपंच से उम्मीद थी कि अब तो नालियों की समस्या खत्म हो जाएगी लेकिन वर्तमान सरपंच ने आगे से बजट न आने का हवाला देकर उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया।ग्रामीणों ने नालियों का निर्माण करवाकर बरसों से बनी समस्या से निजात दिलवाने की मांग की।10 दिनों के भीतर गांव की समस्या पर प्रशासन ने कोई संज्ञान नही लिया तो ग्रामीण पातलियास मार्ग अवरुद्ध कर धरना प्रदर्शन करेंगे।ज्ञात रहे इस मार्ग से पीपली,भग्गा खेड़ा,बरसोलिया गेंदलिया सहित दर्जनों गांवों के लोग मजदूरी के लिए भीलवाड़ा व अन्य स्थानों पर आवागमन करते है।लेकिन इस मार्ग पर भी बरसात के दिनों में कीचड़ भरा रहता है।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक