रक्षाबंधन पर्व : भाइयों की कलाई पर सजा प्रेम और रक्षा का बंधन

 


भीलवाड़ा(हलचल)।भाई और बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक पर्व रक्षाबंधन श्रावण मास की पूर्णिमा पर रविवार को हर्षोल्लास से मनाया गया। इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा का साया नहीं रहने से पूरे दिन राखी बांधी जा सकी। इधर, एक द‍िन पूर्व शहर के बाजारों में त्योहारी खरीदारी चरम पर रही। एक ओर महिलाएं व युवतियां अपने भाइयों के लिए राखियों की स्टॉल्स से राखियां खरीदती नजर आईं, वहीं दूसरी ओर मिठाइयों से लेकर नमकीन, नारियल, पूजन सामग्री के स्टॉल्स पर भी दिनभर भीड़ रही।

शहर के प्रमुख आजाद चौक, धानमंडी, इंदिरा मार्केट आदि बाजारों में खूब भीड़ रही। शहरी लोगों के अलावा ग्रामीण भी खरीदारी के लिए पहुंचे, जिससे इन बाजारों में कई बार जाम की स्थिति भी बनी। इधर, राखी के मौके पर घरों में उत्‍साह व रौनक द‍ि‍खाई दी। शादीशुदा बहनेंं भाइयों के घर पहुंची और रक्षाबंधन का पर्व मनाया। इस द‍िन बहनें सुबह से ही सज धजकर तैयार हो गई और शुभ मुहूर्त में भाइयों के त‍िलक कर उनके हाथ पर रक्षा का सूत्र बांधा। उन्‍होंने मुंह मीठा करा और आरती कर भाई की लंबी आयु की कामना की। वहीं, भाइयों ने बहनों की रक्षा का वचन देकर उन्‍हें उपहार व नेग आदि द‍िया । पिछले साल कोरोना होने के कारण कई भाईबहन ये त्‍योहार नहीं मना पाए थे। ऐसे में इस साल सभी ये द‍िन खुशी से मना कर वो कमी दूर की।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक