कमलनाथ का बड़ा हमला, जो तस्वीरें सरकार दिखा रही है, हालात उससे कई गुना ज्यादा खराब

 

 

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने भी शनिवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा किया। उन्होंने ग्वालियर, चंबल संभागों के जिलों में आई भीषण बाढ़ का जायजा लिया। कमलनाथ के साथ ही पूर्व मंत्री गोविंद सिंह भी थे।कमलनाथ ने दतिया ज़िले के बाढ़ प्रभावित इलाकों का भी मुआयना किया। कमलनाथ का कहना है कि सरकार सरकार जो तस्वीरें दिखा रही है, हालात उससे कई गुना ज़्यादा ख़राब हैं। दतिया ज़िले में बाढ़ में बह गए पुल का भी मुआयना कर कमलनाथ ने कहा कि प्राकृतिक आपदा के साथ-साथ शिवराज की देन भ्रष्टाचार जनित आपदा भी प्रदेश की जनता को निगल रही है।

 

सरकार पर उठाए कई सवाल

सुझाए गए समाचारशनिवार को शिवपुरी पहुंचे कमलनाथ ने हवाई पट्टी पर मीडिया से चर्चा करते हुए राज्य सरकार पर कई सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह घोषणा कर रहे हैं, लेकिन पीड़ित को राहत कब मिलेगी, यह सरकार बताए। उन्होंने पूछा कि जिस ठेकेदार ने घटिया पुल और सड़कें बनाईं, जो बारिश में टूटकर बिखर गए, उनके खिलाफ क्या कार्यवाही होगी। जो सड़कें बर्बाद हुई हैं, उनकी मरम्मत कब होगी। क्या वो कॉन्ट्रेक्टर ब्लैकलिस्टेड किए जाएंगे।

 

बांध अचानक खोलने की स्थिति गड़बड़ाई

उन्होंने कहा कि मौसम विभाग दो दिन पहले अलर्ट जारी कर देता है, तो फिर प्रशासन के अधिकारी आपदा के आने का इंतजार क्यों करते रहे?, बांध अचानक खोल दिए गए। इस कारण आफत आई। डैम के पूरे गेट ऐनवक्त पर खोलने से पानी के फ्लड ने जिले के सैकड़ों गांव में तबाही कर दी, किसानों की फसल बर्बाद हो गई, इन हालातों के लिए जिम्मेदारों पर क्या और कब तक कार्यवाही होगी।

 

 

कितनों को मिला मुआवजा

कितनों को मुआवजा मिला। राहत शिविरों में लोग रह रहे हैं, इसके बाद वे कहां जाएंगे। वे कब वापस घर आएंगे। यह बुनियादी प्रश्न है। मेरे नहीं यह आमजनता का प्रश्न है। शिवराजजी आपकी बात तो सुन ली, आ समय बता दीजिए, कब तक राहत मिलेगी। यह आश्वासन ग्वालियर-चंबल की जनता को दीजिए।

 

मुख्यमंत्री ने किया तीन जिलों का दौरा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सुबह गुना अशोकनगर विदिशा जिलो में बाढ़ की स्थिति और चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी ली है ।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक